महिलाएं ट्विटर पर भी सुरक्षित नहीं, मिलती है बलात्कार और हत्या की धमकी

by Renu Garia Jan 27, 2020 • 08:28 AM Views 803

क्या भारतीय महिला नेताओं को ट्वीटर पर लगातार अपमान, धमकी और दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ता है. यह जानने के लिए एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया ने देश की 95 महिला नेताओं पर एक अध्ययन किया है. ट्रोल पेट्रोल इंडिया: एक्सपोज़िंग ऑनलाइन अब्यूज़ फ़ेस्ड बाय वुमेन पॉलिटिशियंस' नाम के इस अध्ययन से पता चला है कि महिला नेताओं को लिंग, धर्म, जाति, शादी और अन्य निजी मुद्दों को लेकर निशाना साधा जाता है. अध्ययन से यह भी पता चला है कि मुसलमान महिला नेताओं को बाक़ी धर्मों की महिलाओं के मुक़ाबले 91.4% ज़्यादा आपत्तिज़नक ट्वीट किए जाते हैं.

एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया ने देश की 95 भारतीय महिला नेताओं के ट्वीट्स पर एक अध्ययन किया है. यह अध्ययन बताता है कि भारतीय महिला नेताओं को ट्विटर पर बलात्कार की धमकी से लेकर गालियां और महिला विरोधी फब्तियां झेलनी पड़ती हैं.   

यह अध्ययन बताता है कि इन महिला नेताओं को हर दिन हज़ारों ऐसे ट्वीट्स का सामान करना पड़ा जो उन्हें अपमानित करने वाले थे. इन्हें किए गए 13 फ़ीसदी से ज़्यादा ट्वीट्स आपत्तिजनक थे. अध्ययन यह भी बताता है कि अगर महिला नेता मुसलमान है तो उसे अन्य धर्मों की महिला नेताओं से ज़्यादा हमले झेलने पड़े. मुस्लिम महिला नेताओं को 91 फ़ीसदी से ज़्यादा आपत्तिजनक ट्वीट किए जाते हैं. 

रिपोर्ट यह भी बताती है कि अधिकतर ट्रोल की गयी महिला नेता बीजेपी से ताल्लुक नहीं रखती हैं। साथ ही, भारत में महिला राजनेताओं को अमेरिका और ब्रिटेन की महिला नेताओं के मुकाबले लगभग दोगुनी ट्रोलिंग का सामना करना पड़ता है। यह अध्ययन पिछले साल मार्च से मई के बीच लोक सभा चुनावों के दौरान किया गया था.