ads

कोरोना से डर नहीं लगता, भुखमरी और गरीबी से लगता है: प्रवासी मज़दूर

by Anjali Ojha Apr 21, 2021 • 11:41 AM Views 619

कोरोना वायरस के संक्रमण पर काबू पाने के लिए राष्ट्रीय दिल्ली में लगाए गए लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) का पलायन एक बार फिर शुरू हो गया है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अपील बेअसर हो रही है और रेलवे स्टेशन के अलावा बस स्टैंड्स पर मजदूरों की भारी भीड़ देखी जा रही है.

प्रवासी मजदूरों को डर है कि लॉकडाउन का समय पहले की तरह ही इस बार भी बढ़ सकता है, इसलिए वो अपना पूरा सामान लेकर घर लौट रहे हैं. मजदूरों को भरोसा नहीं है कि एक सप्ताह बाद दिल्ली में सब कुछ सामान्य हो जाएगा, सबको लॉकडाउन के लंबा चलने का डर सता रहा है.

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को लॉकडाउन की घोषणा करते हुए कहा था, 'मैं प्रवासी मजदूरों से हाथ जोड़कर अपील करना चाहता हूं कि दिल्ली छोड़ कर मत जाएं. यह छोटा सा लॉकडाउन है. सरकार आपकी सभी जरूरतों का ध्यान रखेगी. मेरी आप सभी से अपील है कि आप दिल्ली छोड़कर ना जाएं. हम सब मिलकर इस परिस्थिति का सामना करेंगे.'