ज़बरदस्ती शादी के लिए हर घंटे तीन भारतीय हो रहे अगवा: NCRB रिपोर्ट

by Siddharth Chaturvedi Oct 14, 2020 • 11:25 AM Views 1180

भारत भले ही अंतरिक्ष की दूरियाँ नाप रहा हो लेकिन सामाजिक कुप्रथाओं से अबतक छुटकारा नहीं पा सका है। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के साल 2019 के आंकड़े इस बात की तस्दीक करते हैं। मसलन, साल 2019 में देशभर में कुल 25 हज़ार 824 ऐसे अपहरण हुए जिनके पीछे की वजह जबरन शादी थी । आसान भाषा में कहें तो भारत में शादी के लिए हर रोज़ 70 इंसान अगवा होते है, यानी हर घंटे क़रीब तीन लोग इसका शिकार बनते हैं। बता दें, ऐसी घटनाओं को केवल महिलाएं ही नहीं बल्कि पुरुष भी झेलते हैं और इसमें कई नाबालिग भी शिकार बनते हैं।

वहीं अगर पुरुषों की बात करें तो साल 2019 में कुल 464 पुरुषों का अपहरण जबरन शादी करने के लिए किया गया और इसमें भी 129 नाबालिग बच्चे शामिल थे। वैसे इतने बड़े पैमाने पर शादी के लिए हो रहे अपहरण के पीछे अलग अलग कारण बताए जाते हैं पर एक स्टडी के मुताबिक इन सबके पीछे मुख्य कारण है भ्रूण हत्या।

सबसे चिंताजनक बात ये है की इसी स्टडी के मुताबिक अगर ऐसा ही चलता रहा तो साल 2030 तक भारत में 68 लाख कम लड़कियाँ जन्म लेंगी जो शादी के लिए हो रहे अपहरण की समस्या को और बढ़ा देगा।