ads

'टैक्स टेररिज़्म': व्यापारियों का भारत बंद, किसान मोर्चा भी समर्थन में

by GoNews Desk Feb 26, 2021 • 01:41 PM Views 222

व्यापार संगठन कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स ने गुड्स एंड सर्विसेज़ टैक्स (जीएसटी) के प्रावधानों की समीक्षा की मांग को लेकर आज भारत का आह्वान किया है। इस बंद को ऑल इंडिया ट्रडर्स वेलफेयर एसोसिएशन का भी समर्थन है। वेलफेयर एसोसिएशन की ओर से कहा गया है कि सीएसआईटी के साथ पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते दाम और ई-वे बिल को लेकर चक्का जाम का समर्थन किया जाएगा। व्यापारियों के साथ आंदोलित किसान भी इसके समर्थन में है।

जीएसटी के प्रावधानों को लेकर सीएआईटी के कार्यकर्ता आज 1500 स्थानों पर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। जीएसटी से व्यापारियों को ख़ासा नुक़सान हो रहा है। संगठन ने सरकार के सामने जीएसटी के नियमों की समीक्षा और टैक्स स्लैब को और सरल बनाने की मांग रखी है।

सीएआईटी का कहना है कि है कि, ‘जीएसटी ने सरकारी अधिकारियों को मनमानी और अप्रतिबंधित शक्तियां देकर देश में टैक्स टेररिज़्म की स्थिति पैदा कर दी है। एक सही कर प्रणाली वो ही है जो व्यापारियों के भले और वृद्धि का सोचे। वो नहीं जो अपने नियमों की जटिलता और कुटिलता से कष्ट दे।’ सीएआईटी का कहना है, ‘किसे पता था कि व्यापार को आसान बनाना तो दूर बल्कि हम व्यापारियों को अनगिनत अनुपालन और अधिकारियों से अनुचित उत्पीड़न सहना पड़ेगा।’