ads

तमिलनाडु चुनाव: अम्मा-करुणा के बिना होगी जंग, राज्य में सियासी ताकत बनने के लिए भाजपा लगा रही ज़ोर

by GoNews Desk Feb 27, 2021 • 06:49 PM Views 882

चुनाव आयोग ने तमिलनाडु विघासभा चुनाव के लिए 6 अप्रैल को मतदान की योजना बनाई है। राज्य में एक ही चरण में 234 सीटों पर मतदान होंगे। सभी राज्यों और केन्द्रशासित प्रदेश के साथ ही 2 मई को इसके परिणाम भी घोषित होंगे।

तमिलनाडु में जे. जयललिता और एम करुणानिधी के निधन के बाद यह पहला विधानसभा चुनाव है। राज्य में एआईएडीएमके के के.पलानिस्वामी बीजेपी और पीएमके के साथ गठबंधन में सरकार चला रहे हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी का वोट शेयर 2.8 फीसदी था। हालांकि चुनाव-दर-चुनाव राज्य में पार्टी का वोट शेयर बढ़ रहा है। 2011 के विधानसभा चुनाव में पार्टी का वोट शेयर 2.2 फीसदी रहा था।

234 सीटों वाली विधानसभा में एआईएडीएमके गठबंधन के पास अभी 135 विधायक हैं। हालांकि 2011 के विधानसभा चुनाव में एआईएडीएमके गठबंधन के पास 203 विघायक थे।

राज्य की विधानसभा में अगर विपक्षा की संख्या देखें तो डीएमके गठबंधन के 97 विधायक हैं। इनमें कांग्रेस, एमडीएमके, वीसी, सीपीआई और सीपीएम शामिल है। इनके अलावा अन्य के पास विधायकों की संख्या दस है। अगर वोट शेयर की बात करें तो राज्य में कांग्रेस का वोट शेयर 6.4 फीसदी है जो लगातार घट रहा है। 2011 के चुनाव में पार्टी का वोट शेयर 9.3 फीसदी रहा था।