17 दिन में पेट्रोल-डीज़ल का दाम 17 बार बढ़ा, कांग्रेस ने कहा- मोदी है तो मुमकिन है

by GoNews Desk Jun 23, 2020 • 03:00 PM Views 368

पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमतों में लगातार 17वें दिन बढ़ोतरी के ख़िलाफ़ अब हंगामा बढ़ रहा है. कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट किया, ’17 दिन में 17 बार पेट्रोल डीज़ल के दाम में बढ़ोतरी. 73 साल में पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमतें सबसे ज़्यादा! पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमत बराबर आ गयी है. एक तरफ़ कोरोना की मार, दूसरी तरफ़ मारे भाजपा सरकार. मोदी है तो मुमकिन है.’ सुरजेवाला ने कहा कि पेट्रोल और डीजल के दामों का सीधा असर महंगाई पर होने वाला है.

17 दिनों में पेट्रोल अब तक 8.50 रूपये प्रति लीटर और डीज़ल 9.77 रूपये प्रति लीटर महंगा हो चुका है. इस बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल 79 रुपए 76 पैसे में बिक रहा है जबकि एक लीटर डीजल की क़ीमत 79 रुपए 40 पैसे हो गई है. वहीं कोलकाता में पेट्रोल की कीमत 81.45 रुपये और डीजल की कीमत 74.63 रुपये प्रति लीटर हो गई है. चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल 83.04 रुपये और डीजल 76.77 रुपये में बिक रहा है.

इसी तरह मुंबई में पेट्रोल 86.54 रुपये प्रति लीटर और डीजल 77.76 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से बिक रहा है। इस बेलग़ाम बढ़ोतरी के ख़िलाफ़ दिल्ली, पंजाब, राजस्थान समेत कई राज्यों मे विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए हैं.

वीडियो देखिए

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि जनता को पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती क़ीमतों की वजह पता चलनी चाहिए. केंद्र सरकार को इस बढ़ोतरी की वजह बताना चाहिए. राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने पीएम नरेन्द्र मोदी पर आरोप लगाया कि रियालंस के पेट्रोल पंपों को जिंदा रखने और फायदा पहुंचाने के लिए मोदी सरकार दाम बढ़ा रही है.

ऐसा भी नहीं है कि अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल के दामों में उछाल आ गया है. मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में कच्चा तेल 40.55 डॉलर प्रति बैरल के हिसाब से बिक रहा है जोकि काफी कम है.