JNU हमले के पांचवें दिन भी पुलिस के हाथ ख़ाली, पुलिस की नीयत पर उठे सवाल

by Deepak Pokharia Jan 09, 2020 • 04:38 PM Views 909

जेएनयू में हुए हमले के चार दिन बाद भी दिल्ली पुलिस किसी किसी भी हमलावर की गिरफ्तार नहीं कर सकी है। दिल्ली पुलिस इस मामले में अब तक सिर्फ और सिर्फ जांच किए जाने का ही बात कह रही है। जेएनयू मामले की जांच क्राइम ब्रांच के पास है।

जेएनयू कैंपस में रविवार को हुए नक़ाबपोशों के हमले के चौथे दिन बाद भी दिल्ली पुलिस के हाथ ख़ाली है। हमलावरों की गिरफ्तारी नहीं होने की वजह से दिल्ली पुलिस की नीयत शक़ के दायरे में है। हमले की जिम्मेदारी लेने वाले हिंदू रक्षा दल के अध्यक्ष पिंकी चौधरी समेत दल के किसी भी शख्स को दिल्ली पुलिस ने अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।

हमलवारों के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बावजूद अभी भी वो दिल्ली पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। इसके अलावा सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वॉट्स ऐप मैसेजस और मोबाइल नंबरों के आधार पर भी अब तक किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है। दिल्ली पुलिस इस मामले में अब तक सिर्फ और सिर्फ जांच किए जाने का ही बात कह रही है। जेएनयू मामले की जांच क्राइम ब्रांच के पास है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी धोष समेत कई लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

उधर जेएनयू के वीसी जगदीश कुमार के इस्तीफ़े की मांग तेज़ हो गई है। जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आयशी घोष ने कहा कि वीसी जगदीश कुमार को इस्तीफा देना चाहिए। इस बीच गुरुवार को जेएनयू छात्र और शिक्षक संघ हमले के खिलाफ मार्च निकालेगा। ये मार्च मंडी हाउस से जंतर मंतर तक निकाला जाएगा। छात्रों की मांग है कि फीस बढ़ोत्तरी के आदेश को वापस लेने के साथ वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार को तुरंत हटाया जाए।