NEET-PG: सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत !

by GoNews Desk Jan 11, 2022 • 11:01 AM Views 633

सुप्रीम कोर्ट ने आज ओबीसी (अन्य पिछड़ा वर्ग) के लिए 27 फीसदी और ईडब्ल्यूएस (आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग) श्रेणियों के लिए इस साल के लिए 10 फीसदी आरक्षण को मंजूरी देने के साथ चार महीने की देरी के बाद मेडिकल प्रवेश फिर से शुरू करने का आदेश दिया है।

इस साल के लिए गरीब परिवारों के कैंडिडेट के लिए 8 लाख रूपये आय मानदंड की भी अनुमति दी गई है।

ओमिक्रॉन के ख़तरे के बीच कोर्ट के फैसले के बाद अब 45,000 से ज़्यादा जूनियर डॉक्टर इस फैसले के बाद वर्कफोर्स में शामिल हो सकते हैं।

जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एएस बोपन्ना की बेंच ने कहा, 'हम दो दिनों से इस मामले की सुनवाई कर रहे हैं, हमें राष्ट्रहित में काउंसलिंग शुरू करनी चाहिए।” इनके अलावा भविष्य में दाखिले के लिए आय दायर याचिका पर 5 मार्च को सुनवाई होगी।

एनईईटी-पीजी 100 से ज़्यादा निजी और मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए मेडिकल छात्रों के लिए एक योग्यता और रैंकिंग परीक्षा है। पिछले दिनों काउंसलिंग को लेकर राजधानी दिल्ली सहित अन्य राज्यों में भी रेज़िडेंट डॉक्टरों ने भारी विरोध-प्रदर्शन किया था।