भारतीय नागरिकों की कमाई घटी, महामारी से हालात और बिगड़े

by GoNews Desk Sep 23, 2021 • 05:39 PM Views 504

किसी भी देश के विकास के लिए ज़रूरी है कि उस देश के नागरिकों की ज़िंदगी खुशहाल हो। ज़िंदगी में खुशहाली के लिए ज़रूरी है कि उसके नागरिकों की आय में भी इज़ाफा होता रहे लेकिन भारत के केस में ऐसा नहीं है। भारत की आबादी 1.3 अरब से ज़्यादा है और यहां प्रति व्यक्ति औसतन आय 95 हज़ार रूपये है, जो देश के कुछ राज्यों में प्रति व्यक्ति आय के मुक़ाबले बेहद कम है।

महामारी के दौरान भारत के नागरिकों की आर्थिक हालत बदतर हुई है जिसमें आगे लंबे समय तक सुधार के बहुत कम ही संकेत हैं। हालांकि नागरिकों की ख़राब होती आर्थिक हालत के पीछे सिर्फ महामारी को दोष देना बेमानी होगी। आंकड़े बताते हैं कि भारत के नागरिकों की हालत लंबे समय से ख़राब हो रही है जिसपर सरकार भी मानो आंखे मूंद रखी है।

मसलन साल 2015-16 में भारत में प्रति व्यक्ति आय 6.6 फीसदी की दर से ग्रोथ कर रही थी लेकिन उसमें उतार चढ़ाव के बाद साल 2019 में यह 3.9 फीसदी पर गिर गई। अब महामारी के दौरान इसमें -8.9 फीसदी तक की गिरावट दर्ज की गई। आंकड़े देखें तो पता चलता है कि वित्त वर्ष 2018-22 के बीच देश में प्रति व्यक्ति आय का अनुमानित ग्रोथ 2.7 फीसदी है।