कोविशिल्ड वैक्सीन की दो डोज़ के बीच अंतर बढ़ाने की सलाहकार समूह ने नहीं की थी सिफारिश : रिपोर्ट

by GoNews Desk Jun 16, 2021 • 04:58 PM Views 558

देश में कोरोना वायरस के मामलों पर फिलहाल ब्रेक लग गया है। ऐसे में कोविड-19 वैक्‍सीन की दो डोज़ के बीच के अंतर को लेकर बहस फ़िर से तेज़ हो गई है। इस बीच सरकार के सलाहकार पैनल के तीन सदस्यों ने न्यूज़ एजेंसी रॉयटर को बताया कि भारत सरकार ने वैज्ञानिक समूह की सहमति के बिना ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की दो खुराक के बीच के अंतर को दोगुना कर दिया था।

बता दें कि मई में कोरोना वायरस के मामले तेज़ी से बढ़ रहे थे और कई वैक्सीन सेंटर में खुराक की किल्लत हो गई थी। इसके बाद 13 मई को स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविशील्ड की दोनों डोज़ के बीच का गैप 6-8 सप्ताह से बढ़ाकर 12-16 सप्ताह कर दिया था।

सरकार ने तर्क दिया था कि कोविडशील्ड के दोनों डोज़ के बीच का गैप बढ़ाने की सिफारिश राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह टीकाकरण द्वारा की गई थी, जो मुख्य रूप से ब्रिटेन से रियल लाइफ सबूतों के आधार पर थी। अब सरकार को सलाह देने वाले 14 मुख्य सदस्यों में तीन सदस्यों ने रॉयटर्स को बताया कि इस तरह की सिफारिश को लेकर निकाय के पास पर्याप्त डेटा नहीं है।