क्या एक साल में दुनिया और ज़्यादा ख़तरनाक हो गई है ?

by GoNews Desk Nov 24, 2021 • 10:57 AM Views 296

दुनिया भर में, यह भावना व्यापक है कि पिछले एक साल में दुनिया और ज़्यादा ख़तरनाक हो गई है। स्टेटिस्टा ने इप्सोस के एक नए सर्वेक्षण के हवाले से बताया है कि, 28 देशों के 82 फीसदी उत्तरदाताओं ने कहा कि वे इस भावना से कुछ हद तक या पूरी तौर से सहमत हैं कि दुनिया पिछले साल के मुक़ाबले और ज़्यादा ख़तरनाक हुई है।

दुनिया में हालात के ख़राब और अच्छे होने को लेकर एक सर्वे किया गया है जिसमें यह जानकारी सामने आई है। सर्वे के मुताबिक़ कोलंबिया के 91 फीसदी लोग सोचते हैं कि दुनिया अब और ज़्यादा ख़तरनाक हो गई है। जबकि अमेरिका के 86 फीसदी उत्तरदाताओं ने माना कि वैश्विक स्तर पर हालात ख़राब हो रहे हैं जिनमें 41 फीसदी इसको लेकर पूरी तरह सहमत थे।

जबकि चीन के 68 फीसदी उत्तरदाता मानते हैं कि दुनिया एक साल में और ज़्यादा ख़तरनाक हुई लेकिन इनमें सिर्फ 13 फीसदी ने इस बात पर पूरी तरह से सहमति जताई। इस मामले में भारत के 31 फीसदी उत्तरदाता पूरी तौर पर सहमत हुए कि वैश्विक स्तर पर पिछले एक साल में हालात बदतर हुए हैं।

हालांकि सर्वे में दूसरे तरीके से सवाल पूछे जाने पर पता चला कि चीन के लोग सबसे ज़्यादा आशावादी यानि ऑप्टिमिस्ट हैं। मसलन चीन के 86 फीसदी लोग कुछ हद तक या पूरी तौर से मानते हैं कि वैश्विक स्तर पर हालात सुधर रहे हैं लेकिन यहां भी सिर्फ 14 फीसदी उत्तरदाताओं ने इस बात पर पूरी तरह सहमति जताई।