'20 लाख करोड़' जैसी बड़ी घोषणाओं के बावजूद केन्द्र ने ख़र्च कम किया : रिपोर्ट

by GoNews Desk Sep 06, 2021 • 04:54 PM Views 394

'20 लाख करोड़' जैसी बड़ी घोषणाओं के बावदूद केन्द्र सरकार ने पिछले वित्त वर्ष और इस चालू वित्त वर्ष में ख़र्च कम किया है।। पिछले वित्त वर्ष के दौरान देश में महामारी फैली थी और इस वजह से लॉकडाउन लगाया गया था, लेकिन चालू वित्त वर्ष में आर्थिक स्थिति में सुधार के बावजूद सरकार अपने ख़र्च के उस स्तर पर नहीं पहुंच सकी है जहां वो महामारी से पहले थी।

मसलन वित्त वर्ष 2021-22 के अप्रैल-जून तिमाही के लिए स्टेटिस्टिक्स मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों से पता चलता है कि पिछले वित्त वर्ष के अप्रैल-जून तिमाही में केन्द्र सरकार ने वित्त वर्ष 2019-20 में किए गए ख़र्च की तुलना में 10 फीसदी से ज़्यादा कम ख़र्च किया है।

देश में महामारी के लगभग ख़त्म होने के बावजूद पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन, रक्षा और अन्य सेवाओं जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, मनोरंजन और व्यक्तिगत सेवाओं पर खर्च 2021-22 में भी मौन रहा है। यह ग्रॉस वैल्यू एडिशन या जीवीए के संदर्भ में केन्द्र द्वारा किए गए ख़र्च से लगभग 5 फीसदी कम है।