ads

लगातार बढ़ती मौतों के बीच आज सरकार दे सकती है किसानों के पत्र का जवाब

by GoNews Desk Dec 28, 2020 • 12:53 PM Views 124

केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन 33वे भी जारी है। वहीँ किसानों ने सरकार से बातचीत फिर से शुरू करने का फैसला लेते हुए शनिवार को सरकार को चिट्ठी लिखी थी। किसानों ने मंगलवार 11 बजे मीटिंग करने का वक्त दिया था।

उन्होंने 4 शर्तें भी रखीं। पहली ही तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की संभावनाओं पर बातचीत हो। मिनिमम सपोर्ट प्राइस यानी की कानूनी गारंटी बातचीत के एजेंडे में रहे। तीसरी कमीशन फॉर द एयर क्वालिटी मैनेजमेंट ऑर्डिनेंस के तहत सजा के प्रोविजन किसानों पर लागू नहीं हों। ऑर्डिनेंस में संशोधन कर नोटिफाई किया जाए। चौथी की इलेक्ट्रिसिटी अमेंडमेंट बिल में बदलाव का मुद्दा भी बातचीत के एजेंडे में शामिल होना चाहिए।  कयास लगाया जा रहा है कि किसानों की चिट्ठी पर सरकार आज जवाब दे सकती है।

लेकिन इस बीच टीकरी बार्डर से करीब सात किलोमीटर दूर पकौड़ा चौक के पास किसान आंदोलन में शामिल वकील अमरजीत सिंह ने जहरीला पदार्थ निगल लिया। हालत बिगड़ती देख साथी उन्हें तुरंत बहादुरगढ़ के नागरिक अस्पताल लेकर गए। प्राथमिक दवा देने के बाद डॉक्टरों ने उन्हें पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।