उत्तर प्रदेश: एक महीने से लापता नाबालिग बेटी की मां का आरोप, 'पुलिसवाले कहते हैं, गाड़ी में डीजल डलवाओ तो ढूंढेंगे'

by GoNews Desk Feb 02, 2021 • 02:38 PM Views 974

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक दिव्यांग महिला ने आरोप लगाया है कि उन्होंने स्थानीय पुलिसकर्मियों की गाड़ी में 10 से 15 हज़ार रुपए का डीजल डलवा दिया है, ताकि वो उसकी नाबालिग लड़की को ढूंढ़ सकें, जिसका पिछले महीने एक रिश्तेदार ने अपहरण कर लिया था। बैसाखी की मदद से चलने वाली महिला सोमवार को उन पुलिसकर्मियों के ख़िलाफ़ शिकायत लेकर कानपुर पुलिस प्रमुख के पास पहुंची। कमिश्नर दफ्तर के बाहर स्थानीय मीडिया से बात करते हुए गुडिया नाम की इस विधवा महिला ने बताया कि उन्होंने पिछले महीने अपनी बेटी के लापता होने की शिकायत दर्ज करवाई थी। लेकिन पुलिस उनकी मदद नहीं कर रही है।

महिला ने बताया, 'पुलिसवाले कहते रहते हैं कि हम ढूंढ़ रहे हैं। कई बार वो मेरा अपमान करते हैं, मेरी बेटे के चरित्र पर सवाल उठाते हुए कहते हैं कि उसकी ही गलती होगी। पुलिसवाले कहते हैं कि हमारी गाड़ी में डीजल डलवाइए, हम आपकी बेटी को ढूंढ़ने जाएंगे।’

महिला का वीडियो वायरल होने के बाद कानपुर पुलिस ने ट्वीट करते हुए कहा है कि संबंधित पुलिस चौकी इंचार्ज को हटा दिया गया और मामले की जांच के लिए विभागीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं। `पुलिस के ट्विटर हैंडल से एक वीडियो भी पोस्ट किया गया है, जिसमें एक बुजुर्ग महिला को कमिश्नर ऑफिस से संबंधित पुलिस थाने लाते हुए दिखाया गया है। ट्वीट में कहा गया है कि महिला की बेटी को ढूंढ़ने के लिए चार टीमें बनाई गई हैं।

ध्यान रहे आज से पहले भी कई बार उत्तर प्रदेश पुलिस पर ऐसे अमानवीय बर्ताव करने के आरोप लगते हैं पर साथ ही यह भी ना भूलें की यह वही योगी सरकार है जो क़ानून व्यवस्था के मुद्दे पर चुनकर ही सत्ता में आई थी।