तमिलनाडु के मछुआरों ने शुक्रवार को भूख हड़ताल पर बैठने की घोषणा की

by Arushi Pundir Oct 10, 2019 • 03:53 PM Views 715

11 अक्टूबर को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, प्रधानमंत्री मोदी के साथ अपने दो दिन के भारत दौरे पर तमिलनाडु के महाबलिपुरम जा रहे है। जिसके चलते महाबलिपुरम के आस पास के इलाको में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और तैयारियां जोरो शोरों पर है.

महाबलिपुरम के आस पास के इलाकों में मछुआरों को एक हफ्ते पहले से ही मछली पकड़ने से रोक दिया गया है. वहीं दूसरी तरफ़ महाबलिपुरम से कुछ ही घंटो की दूरी पर स्थित पंबन शहर में मछुआरों ने 11 अक्टूबर को भूख हड़ताल पर बैठने की घोषणा की है.

ये भी पढ़ें- कश्मीर विवाद पर चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने पाकिस्तान को समर्थन देने का ऐलान किया

मछुआरों ने भूख हड़ताल पर बैठने का फैसला श्रीलंका में पकड़े गए 18 भारतीय मछुआरों को छुड़ाने की गुहार सरकार तक पहुंचाने के लिए किया है। मछुआरों का कहना है कि सरकार मछुआरों के लिए कुछ ऐसे नीती लाए जिससे अन्य देशों में पकड़े गए मासूस मछुआरों को जल्द से जल्द से जल्द छोड़वाया जाए.

दरअसल 4 अक्टूबर को मछली की तलाश करते हुए तेज़ हवा और पानी के बहाव के साथ 18 भारतीय मछुआरे  श्रीलंका पहुंच गए थे। जिसके बाद सरकार से कई बार गुहार लगाने के बाद अभी तक उन्हें भारत वापिस नहीं लाया जा सका है