15 दिसंबर रात 12:30 बजे से लागू होगा फास्टैग

by Arushi Pundir Dec 14, 2019 • 04:08 PM Views 1243
ads

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने नेशनल हाईवे पर चलने वाले सभी वाहनों के लिए 15 दिसंबर से फास्टैग अनिवार्य कर दिया है। फास्टैग को लागू करने पर सरकार का कहना है कि इससे हाईने पर सफ़र कर रहे लोगों को टोल प्लाज़ा पर इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा साथ ही आम तौर पर होने वाले लड़ाई झगड़े से भी बचा जा सकता है। क्या है फास्टैग और कैसे होगा इस्तेमाल देखिए इस रिपोर्ट में।

केंद्र सरकार ने 15 दिसंबर से नेशनल हाईवे पर सफर करने वाली सभी गाड़ियों पर फास्टैग लगाना ज़रुरी कर दिया है। दरअसल आने वाले 15 दिसंबर 2019 से सभी नेशनल हाईवे के टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों को RFID यानि रेडियो फ्रिक्वेंसी आईडिफिकेशन टेक्नोलॉजी पर आधारित टैग लगवाना होगा। 15 दिसंबर की रात 12: 30 से सुविधा शुरु हो जाएगी।

इसके अनिवार्य करने के पीछे सरकार का कहना है कि लोगों को लंबी लाइनों से परेशान न होना पड़े. साथ ही, ईंधन की बचत भी की जा सके.. फास्टैग के इस्तेमाल से वाहनों के चलने से होने वाले प्रदूषण को भी कम करने में मदद मिलेगी.  

सबसे अहम बात ये है की इस फास्टैग को Axis, IDFC, HDFC और ICICI जैसे प्राइवेट बैंकों से भी खरीदा जा सकता है और इसकी अधिकतम कीमत 100 रुपये हो सकती है, फास्टैग प्रीपेड वॉलेट में एक महीने में 20 हजार रुपये से ज्यादा नहीं रख सकते।

एक बार जारी किया गया फास्टैग 5 साल के लिए एक्टिवेट रहता है। अगर कोई चालक अपनी गाड़ी पर फास्टैग नहीं लगाता है तो उसे दोगुना टोल देना होगा। हालांकि फास्टैग में काफ़ी दिक्कतें भी आती है जैसे फास्टैग का ठीक से स्कैन ना होना, फास्ट टैग का डैमेज या टूटने पर या फिर अकाउंट में बैलेंस होने पर टोल पर पैमेंट न होना जैसी समस्याओं की वज़ह से लोग फास्टैग के भरोसे कम ही रहते है।