किसानों ने जियो सिम पोर्ट कराने का अभियान किया तेज़, रिलायंस का शेयर गिरा

by Rahul Gautam Dec 12, 2020 • 05:52 PM Views 1236

किसान आंदोलन अब ना सिर्फ सरकार बल्कि रिलायंस के मालिक मुकेश अंबानी के लिए भी समस्या बनता जा रहा है। दरअसल, प्रर्दशनकारी किसानों का मानना है की विवादित कृषि कानूनों को सरकार अंबानी और गौतम अडानी जैसे उद्योगपतियों को फ़ायदा पहुंचाने के लिए ला रही है। किसानों ने 9 दिसंबर को सरकार के प्रस्ताव को ठुकराने के बाद बड़े कॉर्पोरेट घरानों के बहिष्कार का ऐलान किया। लेकिन अंबानी के लिए ताज़ा सिरदर्द बना है उनके मोबाइल नेटवर्क ‘जियो’ के प्रति किसानों का गुस्सा।

किसान अपना रोष जताने के लिए जगह जगह न सिर्फ सिम जला रहे है, बल्कि बाकायदा सोशल मीडिया पर 'बायकाट जियो' और 'पोर्ट जियो' के अभियान चला रहे हैं। इन नामों से बने हैशटैग वायरल हो रहे हैं। कई उपयोगकर्ताओं ने अपने Jio मोबाइल नेटवर्क और Jio Fibernet कनेक्शन को रद्द करने के बारे में पोस्ट करना शुरू कर दिया। उन्होंने पोर्टिंग और सिम रद्द करने के अनुरोध के स्क्रीनशॉट पोस्ट किए और दूसरों से भी ऐसा करने का आग्रह किया।

आदिवासी एक्टिविस्ट हंसराज मीणा ने ट्वीट कर लिखा - ‘आपके पास कोई अवॉर्ड नहीं है जिसे वापस करके आप किसानों के समर्थन में खड़े दिखाई दें। आप अपनी #JIO सिम को पोर्ट करवाइये, आपको अवॉर्ड वापस करने वाली फ़ीलिंग आएगी’