क्रूज शिप रेड केस में उगाही का दावा; वानखेड़े के खिलाफ जांच के आदेश

by GoNews Desk Oct 25, 2021 • 06:57 PM Views 629

क्रूज शिप ड्रग रेड केस, वही केस जिसमें अभिनेता शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान जेल में बंद हैं, इस मामले में रविवार को बड़ा ट्विस्ट आया है। बीते दिन रेड के गवाह बने प्रभाकर सैल के बयान से यह केस पलटता नजर आ रहा है और 2 अक्टूबर को एनसीबी की ड्रग रेड के बाद जांच को लीड कर रहे समीर वानखेड़े अब खुद सवालों के घेरे में आ गए हैं। यहां तक कि खुद एंटी ड्रग एजेंसी एनसीबी ने भी उनके खिलाफ इंटरनल जांच के आदेश दे दिए हैं।

प्रभाकर सैल ने रविवार को एक मीडिया चैनल से बात करते हुए एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पर आरोप लगाया कि वह आर्यन खान के खिलाफ कोई केस न बनाने के लिए और उन्हें जेल न भेजने के लिए 25 करोड़ रूपये की मांग कर रहे थे। 

कौन हैं प्रभाकर सैल?
प्रभाकर सैल उन दो पंच गवाहों में से एक हैं जिन्हें कार्डेलिया क्रूज शिप पर रेड के दौरान नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की टीम अपने साथ ले गई थी। रेड में दूसरे पंच गवाह किरण गोसावी हैं और सैल उनके बॉडीगार्ड है। पंच गवाह दो लोगों का समूह होता है जो अधिकारियों की रेड, खोज और जब्ती के दौरान इसके गवाह बनते हैं। यह लोग उन चीज़ों का ब्यौरा लिखते हैं जो रेड के दौरान जब्त की जाती हैं और फिर वह इस दस्तावेज़ पर साइन करते हैं और इसे ही पंचनामा कहा जाता है।