कमज़ोर हुआ भारत का लोकतंत्र, 'डेमोक्रेसी इंडेक्स' में दो अंक और फ़िसला

by Siddharth Chaturvedi Feb 05, 2021 • 11:15 AM Views 689

विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र का ख़िताब रखने वाले भारत की डेमोक्रेसी इंडेक्स में रैंकिंग लगातार गिरती जा रही है। भारत ‘2020 लोकतंत्र सूचकांक’ यानी डेमोक्रेसी इंडेक्स की वैश्विक रैंकिंग में दो स्थान फिसलकर 53वें स्थान पर आ गया है। हाँलाकि भारत अपने पड़ोसी देशों की तुलना में बेहतर स्थिति में है।

'द इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट’ (ईआईयू) ने कहा कि सत्ताधारियों के ‘लोकतांत्रिक मूल्यों से पीछे हटने’ और नागरिकों की स्वतंत्रता पर ‘कार्रवाई’ के कारण देश 2019 की तुलना में 2020 में दो स्थान फिसल गया है। भारत 2019 के लोकतंत्र सूचकांक में 51वें स्थान पर रहा था।

भारत को 2019 में 6.9 नंबर मिले थे, जो घटकर अब 6.61 नंबर रह गये हैं। यह इंडेक्स विश्व के 167 देशों में लोकतंत्र की मौजूदा स्थिति की झलक दिखाता है। ईआईयू ने कहा है कि मौजूदा शासन में ‘लोकतांत्रिक मूल्यों से पीछे हटने के परिणामस्वरूप, भारत को 6.61 नंबर मिले और उसकी वैश्विक रैंकिंग (2014 में) 27वें से गिरकर 53वीं हो गई है। भारत को 2014 में 7.92 नंबर मिले थे, जो उसे अभी तक मिले सबसे ज़्यादा नंबर हैं।’