देश के असली मालिक आदिवासी, यूएन मूलनिवासी घोषित करे: शरद पवार

by Rahul Gautam Jan 28, 2020 • 08:34 AM Views 3263

देश में नागरिकता पर चल रही बहस के बीच एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार ने संयुक्त राष्ट्र द्वारा आदिवासियों को भारत का मूलनिवासी घोषित करने की मांग का समर्थन किया है। शरद पवार ने कहा कि सदियों से भारत में रह रहे आदिवासी ना सिर्फ मूलनिवासी है, बल्कि देश के असली स्वामी है।

मध्यप्रदेश के इंदौर में पहले मूलनिवासी संवैधानिक अधिकार परिषद में एनसीपी चीफ शरद पवार ने नागरिकता कानून पर जारी बहस के बीच आदिवासियों को भारत का मूलनिवासी घोषित करने की वकालत की। शरद पवार ने कहा कि आदिवासी ही भारत के मूलनिवासी हैं और मुझे बताया गया है कि संयुक्त राष्ट्र संघ भी इसे मान्यता दे सकता है। हम इस मांग का पूरा समर्थन करते है और इसे पूरा करने को अपना फ़र्ज़ समझते है।'  

इसके अलावा, उन्होंने आदिवासियों को देश का असली स्वामी बताया और कहा कि इस समाज में देश को नेत्तृत्व देकर सही रास्ते पर आगे ले जाने की पूरी क्षमता है। आदिवासियों और दलितों को मूलनिवासी घोषित करने की मांग बार-बार उठती रही है. इससे पहले कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे भी पार्लियामेंट भी दलितों को देश का मूलनिवासी बता चुके हैं। शरद पवार का आदिवासियों को भारत का मूलनिवासी घोषित करने की वकालत उस वक़्त करना जब देश में संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर एक उबाल है, एक नई बहस को जन्म दे सकता है.