संगठित क्षेत्र में बढ़ोत्तरी का दावा; संघर्ष करता असंगठित क्षेत्र, सिकुड़कर 20 फीसदी पर

by GoNews Desk Nov 02, 2021 • 07:28 PM Views 705

भारत में कुल वर्कफोर्स का एक बड़ा हिस्सा इन्फोरमल सेक्टर या असंगठित क्षेत्र में काम करता है। महामारी की गाज भी सबसे ज़्यादा इसी सेक्टर पर गिरी और बड़ी संख्या में लोग बेरोजगार भी हो गए। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी एक नई रिपोर्ट में बतााया है कि संगठित क्षेत्र तो अपने पूर्व महामारी के लेवल पर आ गया है लेकिन असंगठित क्षेत्र या इन्फोरमल सेक्टर अभी भी महामारी का दंश झेल रहा है। 

रिपोर्ट में बताया गया है कि असंगठित अर्थव्यवस्था 2018 में 52 फीसदी के मुक़ाबले सिकुड़कर 15-20 फीसदी पर आ गई है। कथित तौर पर महामारी की वजह से इस सेक्टर में यह गिरावट देखी गई।

अब अगर आंकड़े देखें तो सरकार की तरफ से कुछ कदम उठाए गए हैं जिसके तहत यह बताने की कोशिश है कि इन्फोर्मल सेक्टर में आई इस गिरावट की वजह वर्कफोर्स का फॉर्मल सेक्टर में स्थानांतरित होना है। हालांकि अगर कैटगरी के हिसाब से देखें तो कई क्षेत्र ऐसे हैं जहां कोई ख़ास सुधार नहीं है।