केन्द्र सरकार के दावे गलत, घाटी में पत्थरबाजी और झड़प जारी

by GoNews Desk Oct 12, 2019 • 09:30 AM Views 1185

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव में सत्ताधारी दल बीजेपी जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का मुद्दा उछाल रही है. गुरुवार को महाराष्ट्र के सांगली में गृह मंत्री अमित शाह ने सरकार की पीठ थपथपाते हुए कहा कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से कश्मीर में एक भी गोली नहीं चली है.

हालांकि अमित शाह के दावे सही नहीं हैं. अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से घाटी में 300 सौ से ज़्यादा प्रदर्शन और पत्थरबाज़ी की घटनाएं हुई हैं. इन हमलों ने तक़रीबन 100 जवान ज़ख़्मी हुए हैं.

इन दो महीनों में कम से कम पांच एनकाउंटर में 10 चरमपंथी मारे गए और दो जवानों की भी मौत हुई.

28 सितंबर को रामबन में तो 12 घंटे लंबा ऑपरेशन चला था.

28 सितंबर को गांदरबल इलाक़े में भी कई घंटे लंबी मुठभेड़ चली थी.

सितंबर में ही पैलेट गन से 11वीं के एक छात्र असरार अहमद की मौत पर हंगामा हुआ था.

5 अक्टूबर को अनंतनाग में डीसी ऑफ़िस के बाहर ग्रेनेड से हमला हुआ था.

ऐसे में अमित शाह का ये दावा ग़लत लगता है कि दो महीने में कश्मीर घाटी में गोली नहीं चली और लोग वहां शांति से रह रहे हैं.