ads

असम चुनाव: तीन चरणों में होगा मतदान, जानिए तारीखें और राजनीतिक समीकरण

by GoNews Desk Feb 27, 2021 • 06:18 PM Views 686

असम में भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर जीत की उम्मीद लिए अगर बढ़ रही है। 2016 में पार्टी को अप्रत्याशित जीत मिली थी। राज्य में कभी कांग्रेस पार्टी का दबदबा हुआ करता था लेकिन चुनाव-दर-चुनाव पार्टी का वोट शेयर लगातार घट रहा है।

कांग्रेस पार्टी के दिग्गज रहे तरुण गोगोई की मौत के बाद राज्य में पार्टी कमज़ोर श्रेणी में है। हालांकि बदरूद्दीन अजमल की पार्टी एयूडीएफ के गठबंधन की वजह से मुस्लिम वोट कांग्रेस पार्टी के साथ है। राज्य में बीजेपी ने ज़मीनी स्तर पर खुदको मज़बूत किया है और चुनाव में नए अंदाज़ में दिख रही है। राज्य में पार्टी के बड़े नेता हेमंत बिस्वसरमा ने यहां तक कह दिया की पार्टी को मुस्लिम वोट की ज़रूरत नहीं है।

अगर विधानसभा में संख्या की बात करें तो पार्टी के पास अभी 60 विधायक हैं। इनके अलावा क्षेत्रीय पार्टी बीपीएफ के 12 विधायक हैं। वहीं विपक्षा में कांग्रेस के पास 26 और एयूडीएफ के पास 13 विधायक हैं। यानि राज्य में बीजेपी का वोट शेयर 29.5 फीसदी है जो कांग्रेस से कम है। पिछले चुनाव में कांग्रेस पार्टी का वोट शेयर 31 फीसदी रहा था।