बिहार के बाद उत्तराखंड सरकार ने भी सोशल मीडिया पोस्ट को लेकर चेताया! बोलने की आज़ादी पर सवाल!

by GoNews Desk Feb 04, 2021 • 05:21 PM Views 697

बिहार सरकार के बाद अब उत्तराखंड सरकार ने भी सोशल मीडिया को लेकर एक नया फरमान जारी किया है। अगर सरकार की नज़र में आपकी सोशल मीडिया पोस्ट ‘एंटी नेशनल’ पाई जाती है तो आपकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। उत्तराखंड की पुलिस ऐसे लोगों पर नज़र रखेगी जो सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म्स पर कथित तौर पर ‘एंटी नेशनल’ पोस्ट डालते हैं। इससे पहले बिहार सरकार ने भी सोशल मीडिया की टिप्पणियों को लेकर एक आदेश जारी किया था। साफ़ है कि अपने ख़िलाफ़ उठने वाली आवाज़ों को सरकारें अब एंटीनेशनल बताकर उनका दमन करना चाहती हैं।

उत्तराखंड के डीजीपी के मुताबिक़ अगर किसी की सोशल मीडिया पोस्ट ‘एंटी नेशनल’ पायी गई तो उसके पासपोर्ट का वेरिफिकेशन नहीं किया जाएगा। साथ ही उसे हथियार का लाइसेंस भी नहीं मिल सकेगा। डीजीपी अशोक कुमार ने कहा, ‘अबतक नियम था कि अगर कोई शख्स सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट डालता है तो पुलिस पहले उसकी काउंसलिंग करती थी और कहती थी कि आगे भविष्य में वह ऐसा न करे। अगर कोई गंभीर मामला होता था तो पुलिस मुक़दमा दर्ज कर लेती थी लेकिन अब  पुलिस इस बात की भी जांच करेगी कि शख्श सोशल मीडिया पर कोई ‘एंटी नेशनल’ पोस्ट तो नहीं डाल रहा है।’

उन्होंने कहा कि, ‘अगर कोई शख्स ऐसा करते पाया जाता है तो पुलिस उसके वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को पूरा नहीं करेगी। पुलिस यह काम तब करेगी जब शख्स पासपोर्ट या किसी हथियार के लिए आवेदन देगा।’ उत्तराखंड पुलिस के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि राज्य में सोशल मीडिया पर ‘एंटी नेशनल’ पोस्ट करने वालों की तादाद बढ़ रही है, इसी को देखकर यह फैसले लिए गए हैं। अधिकारी ने कहा कि सोशल मीडिया टीम इस तरह की ‘एंटी नेशनल’ पोस्ट पर कड़ी नज़र रख रही है क्योंकि ऐसी पोस्ट्स क़ानून-व्यवस्था के लिए बड़ी चुनौती हैं।