9/11 हमला: "वॉर ऑन टेरर" के नाम पर अमेरिका ने इन देशों को तबाह किया, 900,000 लोग मारे गए

by GoNews Desk Sep 11, 2021 • 06:54 PM Views 588

अमेरिका द्वारा शुरू किए गए तथाकथित "आतंकवाद के ख़िलाफ युद्ध” की वजह से अफगानिस्तान, इराक, सीरिया, यमन और पाकिस्तान में सैकड़ों हजारों लोग मारे गए हैं। 11 सितंबर, 2001 को सुबह 8:46 मिनट पर अमेरिकन एयरलाइंस फ्लाइट 11 वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के नॉर्थ टॉवर में घुस गई। इसके 45 मिनट बाद एक दूसरी फ्लाइट ट्रेड सेंटर के दूसरे टॉवर से जा टकराई। घटना के बाद शाम तक करीब 3000 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई।

अमेरिकियों को तब यह अंदाजा नहीं चल सका होगा कि यह हमले एक लंबे युद्ध की शुरुआत होगी जिसकी वजह से दुनिया में न सिर्फ अमेरिका की किरकीरी हुई बल्कि "वॉर ऑन टेरर" के नाम पर कई देशों को तबाह करने का तमगा भी लगा। दशकों से चल रहे सैन्य संघर्षों में मारे गए आम लोगों और सैन्य कर्मचारियों की मौत ट्रेड सेंटर हमले में मारे गए लोगों की तुलता में कई गुना ज़्यादा है