कोरोना के कारण 61% छात्रों ने टाली विदेश में पढ़ने की योजना

by Siddharth Chaturvedi Aug 22, 2020 • 05:34 PM Views 748

हर साल विदेश जाकर उच्च शिक्षा लेने वाले लाखों भारतीय छात्रों के सपने कोरोना महामारी के चलते टूट गए हैं. 61 फ़ीसदी भारतीय छात्रों ने विदेश में पढ़ाई करने का फैसला एक साल के लिए टाल दिया है. वहीं आठ फ़ीसदी छात्र ऐेसे हैं जो पढ़ाई के लिए जिस देश में जाने वाले थे, उसे छोड़कर दूसरे देश का रुख़ कर रहे हैं.

वहीं सात फ़ीसदी छात्रों ने विदेश में पढ़ाई करने का इरादा पूरी तरह छोड़ दिया है. यह अध्ययन ब्रिटिश एजेंसी क्वैकरेली साइमंड्स ने किया है जो हर साल दुनियाभर के विश्वविद्यालयों की रैंकिंग जारी करती है. एजेंसी ने अंतरराष्ट्रीय छात्रों के बीच एक सर्वे करवाकर पूछा कि कोरोना महामारी ने उनकी पढ़ाई पर क्या और किस तरह असर डाला है.

इस सर्वे में 11 अगस्त तक लगभग 67 हज़ार स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया जिनमें से 11 हज़ार 310 स्टूडेंट्स भारतीय थे.