महिला दिवस: अपने अधिकार की लड़ाई में कितनी सफल हुईं महिलाएं ?

by GoNews Desk Mar 08, 2021 • 08:24 PM Views 730

दुनिया भर में आज महिला दिवस मनाया जा रहा है। महिला दिवस की शुरूआत एक श्रम आंदोलन के रूप में हुई। इसे संयुक्त राष्ट्र ने सालाना तौर पर मनाने की इजाज़त दी थी। भले ही महिला दिवस को मनाने की शुरूआत 1975 में हुई हो लेकिन इस की शुरूआत का बीज 1908 में ही पड़ गया था। 1908 में पहली बार न्यूयॉर्क शहर में 15,000 महिलाओं ने वेतन बढ़ाने, काम के घंटे कम करने और वोट देने की माँग के साथ प्रदर्शन किया था। इसके एक साल के बाद अमेरिकन सोशलिस्ट पार्टी ने महिला दिवस को मनाने की शुरूआत की लेकिन इसे अंतराष्ट्रीय स्तर पर मनाने का विचार पहली बार 1910 में दिया गया। क्लारा जेटकिन नाम की महिला ने इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस ऑफ वर्किंग वीमेन कार्यक्रम में अंतराष्ट्रीय महिलाव दिवस को मनाने का प्रस्ताव दिया। उनके इस विचार का सम्मेलन में भाग लेने वाली 17 देशों की 100 महिला प्रतिनिधियों ने स्वागत किया और पहली बार  1911 में अंतराष्ट्रीय  महिला दिवस  डेनमार्क, जर्मनी और स्विट्जरलैैंंड मेेंं मनाया गया।

अंतराष्ट्रीय महिला दिवस को अधिकारिक तौर पर 1975 में मनाना शुरू किया गया जब संयुक्त राष्ट्र ने इसे मनाना शुरू किया। साल 1996 में पहली बार संयुक्त राष्ट्र ने इस दिवस के आयोजन के लिए थीम दी। ये थीम थी- 'अतीत का जश्न मनाओ और भविष्य की योजना बनाओ'। अब हर साल महिलाएँ समाज में, राजनीति में और अर्थशास्त्र में कहाँ तक पहुँची, इसके जश्न के रूप में अंतराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है।

आज महिला दिवस के मौके पर नज़र डालते हैं महिलाओं से जुड़े कुछ आँकड़ों पर।