आंदोलन के दौरान मारे गए 670 किसान; केन्द्र सरकार के पास डेटा नहीं !

by GoNews Desk Dec 01, 2021 • 03:41 PM Views 897

केन्द्र सरकार के पास एक साल में किसान आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों का आंकड़ा नहीं है। कृषि मंत्रालय के मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने इसके साथ ही कहा कि, "जब डेटा नहीं है तो मुआवज़ा का कोई सवाल ही नहीं उठता।"

केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने विरोध प्रदर्शन के दौरान मारे गए किसानों को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में सदन को बताया, "कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के पास इस मामले में कोई रिकॉर्ड नहीं है और इसलिए मुआवज़े का सवाल ही नहीं उठता।"

संयुक्त किसान मोर्चा और किसान आंदोलन से जुड़े अन्य नेता करीब 700 किसानों के मारे जाने का दावा कर रहे थे। संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ से प्रधानमंत्री मोदी को लिखी गई चिट्ठी में भी करीब 700 किसानों के मारे जाने के दावे किए गए।

गोन्यूज़ ने आपको पहले बताया था कि किसान आंदोलन के दौरान अलग-अलग कारणों से 670 किसानों की मौत हो गई, जिनमें 40 किसानों ने आत्महत्या कर ली थी। यह जानकारी ख़ुद किसान एकता मोर्चा ने सोशल मीडिया पर साझा की थी।