लैपटॉप-मोबाइल पर बिताते हैं बहुत ज़्यादा समय तो हो सकते हैं गंभीर रोग के शिकार : अध्ययन

by GoNews Desk Jun 26, 2021 • 02:25 PM Views 1234

दुनियाभर में कोरोना महामारी के शुरू होते ही सरकारों ने लॉकडाउन का ऐलान कर दिया था। लॉकडाउन के कारण काम और शिक्षा जैसी कई महत्वपूर्ण गतिविधियां वर्चुअल रूप से होनी शुरू हो गईं। लिहाजा लैपटॉप और मोबाइल फोन के बढ़े इस्तेमाल के कारण सभी आयु वर्ग के लोगों का स्क्रीन टाइम भी पहले से कहीं अधिक हो गया।

सरल शब्दों में स्क्रीन टाइम का मतलब किसी व्यक्ति द्वारा लैपटॉप, डेस्कटॉप, स्मार्टफोन और टेलीविजन जैसे स्क्रीन वाले डिवाइस पर बिताया जाने वाला अधिक समय होता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो बढ़ा हुआ स्क्रीन टाइम कई प्रकार के गंभीर रोगों का कारण बन सकता है।

विशेषज्ञ कहते हैं, पहले जब परिस्थितियां सामान्य थीं, तब स्क्रीन टाइम का मैनेजमेंट अब की तुलना में आसान था। मौजूदा समय में ऑफिस के कामकाज और ऑनलाइन पढ़ाई जैसे महत्वपूर्ण कार्यों के चलते उपकरणों का उपयोग भी आवश्यक हो गया है। बढ़े हुए स्क्रीन टाइम को लेकर हाल में ही में हुए एक अध्ययन में वैज्ञानिकों ने बताया है कि यह लोगों में कई प्रकार के गंभीर मानसिक रोगों को जन्म दे सकता है।