Flashback: "MSP पर की जाए क़ानूनी प्रावधानों का ऐलान"

by GoNews Desk Nov 20, 2021 • 03:13 PM Views 694

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ऐलान किया कि केंद्रीय कृषि कानून जिन्हें की पिछले साल सिंतबर में पास किया गया था, उन्हें संसद के शीतकालीन सत्र में वापस ले लिया जाएगा।

पीएम मोदी ने देश को अपने संबोधन के दौरान प्रदर्शनकारी किसानों से अपील की कि वह अपने परिवारों के पास लौट जाएं हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सिंघु बॉर्डर पर  जमे किसानों का कहना है कि वह तभी प्रदर्शनस्थल खाली करेंगे जब कृषि कानूनों को खत्म करने की प्रक्रिया संसद में शुरू हो जाएगी।

सिंघू बॉर्डर पर मौजूद एक स्त्रोत ने इंडिया टुडे से कहा, “संसद सत्र (जो इस महीने से शुरू हो रहा है) के दौरान तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने की कार्यवाही शुरू होने के बाद ही किसान निकलेंगे।” पीएम मोदी ने शुक्रवार को देश के नाम संबोधन में कहा कि उनकी सरकार किसानों के एक हिस्से को कृषि कानूनों पर मनाने में असमर्थ रही।

उन्होंने कहा, “मैं भारत से माफी मांगता हूं और सच्चे और शुद्ध दिल से... हम किसानों को [कृषि कानूनों पर] समझाने में सक्षम नहीं थे। मैं यहां यह घोषणा करने आया हूं कि हमने तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने का फैसला किया है... हम इस महीने शुरू होने वाले संसद सत्र के दौरान सभी औपचारिकताएं पूरी करेंगे।”