किसान आंदोलन: आज अवॉर्ड वापसी, कल भारत बंद, क़ानून 'असंवैधानिक और अवैध’

by GoNews Desk Dec 07, 2020 • 02:27 PM Views 940

मोदी सरकार के कृषि क़ानून के ख़िलाफ किसानों के प्रदर्शन का आज 12वां दिन है। किसान और सरकार के बीच पांच चरणों में बातचीत हुई है। लेकिन अबतक सरकार इसका कोई हल नहीं निकाल सकी। सरकार इसी बात पर अड़ी है कि क़ानून सही है और इसमें संशोधन किया जा सकता है। लेकिन किसान संगठन क़ानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। किसान आंदोलन के समर्थन में पंजाब के दिग्गज आज अपने अवॉर्ड राष्ट्रपति को लौटाएंगे। वहीं आंदोलन को राजनीतिक दलों का समर्थन मिला है और वकीलों ने क़ानून को 'असंवैधानिक' बताया है।

किसान संगठनों की योजना के मुताबिक़ आज पंजाब के दिग्गज अपने अवॉर्ड वापस लौटाएंगे। किसान संगठनों ने अपने एक प्रेस कांफ्रेंस में यह बात कही थी। पंजाब के बड़े खिलाड़ी गुरबख्श सिंह संधू, कौर सिंह और जयपाल सिंह ने भी अपने अवॉर्ड वापसी का ऐलान किया है। इनके अलावा पद्म श्री और अर्जुना विजेता करतार सिंह, अर्जुना विजेता बास्केटबॉल खिलाड़ी सज्जन सिंह और हॉकी खिलाड़ी राजबीर कौर समेत 30 पूर्व खिलाड़ियों ने भी किसानों के समर्थन में अपने अवॉर्ड लौटाने का ऐलान किया है। वहीं पंजाब के पूर्व सीएम और अकाली नेता प्रकाश सिंह बादल ने अपना पद्म विभूषण वापस कर दिया था।

इनके अलावा कल यानि 8 दिसंबर को किसानों ने ‘भारत बंद’ का ऐलान किया है। चौथे चरण की बातचीत की विफलता के बाद किसान संगठनों ने यह फैसला लिया था। उधर सुप्रीम कोर्ट में दिल्ली-एनसीआर के सीमाई इलाक़ों में विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों को तत्काल हटाने की मांग के लिए एक याचिका दायर है। हालांकि याचिका पर कोर्ट ने सुनवाई के लिए कोई तारीख़ तय नहीं की है।