Farmers Agitation में 670 किसानों की मौत, करीब 40 ने की आत्महत्या !

by GoNews Desk Nov 23, 2021 • 11:12 AM Views 739

संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जवाबी चिट्ठी भेजी है। इस चिट्ठी में मोर्चा ने एमएसपी की मांग के साथ एक स्मारक के लिए ज़मीन देने की मांग की है। किसानों ने चिट्ठी में बताया है कि लगभग 700 किसानों की आंदोलन के दौरान मौत हो गई। मोर्चे की तरफ से प्रधानमंत्री को यह चिट्ठी किसान नेताओं की मीटिंग के बाद भेजी गई है।

किसान अपनी एमएसपी की मांग पर अटल हैं और उनका कहना है कि जबतक सभी मांगें पूरी नहीं की जाती, वे सीमा खाली नहीं करेंगे। किसानों की मांग है कि केन्द्र C2+50% फॉर्मूले पर आधारित एमएसपी पर क़ानून बनाए। साथ ही मोर्च ने केन्द्र सरकार द्वारा प्रस्तावित "विद्युत अधिनियम संशोधन विधेयक, 2020-21" का ड्राफ्ट वापस लिए जाने की मांग की है।

संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रधानमंत्री से सिंघू बॉर्डर पर जिस ज़मीन की मांग की है वहां उन किसानों की याद में एक स्मारक का निर्माण कराया जाएगा जो आंदोलन के दौरान मारे गए। किसान एकता मोर्चा की तरफ से एक ब्लॉगपोस्ट की जानकारी दी गई है, जिसमें बताया गया है कि आंदोलन के दौरान 19 नवंबर 2021 तक 670 किसानों की मौत हो गई।