ads

फ्रांस की कैबिनेट ने पास किया ‘मुस्लिमों को अतिवादियों’ से बचाने से जुड़ा बिल

by GoNews Desk Dec 11, 2020 • 02:31 PM Views 725

फ्रांस की कैबिनेट ने गुरुवार को एक बिल पास किया है जिसमें होम स्कूलिंग और हेट स्पीच पर लगाम लगाने की बात कही गई है। फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों लंबे समय से धर्मनिरपेक्ष मूल्यों का बचाव करने का दावा कर रहे हैं। हालांकि उनके आलोचकों का कहना है कि इसकी आड़ में धर्मों को निशाना बनाने का आरोप लगाया है।

फ्रांस के प्रधानमंत्री जीन कैस्टेक्स ने मुसलमानों को अतिवादियों से ‘सुरक्षित’ रखने के लिए इसे ‘संरक्षण देने वाला क़ानून’ बताया है। उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया कि ‘ये क़ानून किसी भी धर्म के ख़िलाफ़ नहीं है।’ क़ानून में दूसरे इंसान की व्यक्तिगत जानकारियों को ग़लत भावना के साथ इंटरनेट पर उजागर करने पर प्रतिबंध लगाने की बात कही गई है।

इस क़ानून को अक्टूबर में एक शिक्षक सैमुअल पैटी की हत्या की प्रतिक्रिया के तौर पर भी देखा जा रहा है। शिक्षक की एक छात्र ने कथित रूप से पैग़ंबर मुहम्मद के कार्टून दिखाने के बाद हत्या कर दी थी। इस क़ानून के मुताबिक़ इस्लामी विचारधारा को बढ़ावा देने के लिए 'चोरी-छिपे चलने वाले स्कूलों' पर भी प्रतिबंध लगाने की बात कही गई है। होम स्कूलिंग के नियमों को कठोर करने की बात भी कही गई है।