ads

अर्थव्यवस्था तो सिकुड़ी लेकिन सरकार ने भी नहीं किया बीते साल जितना ख़र्च

by Rahul Gautam Nov 29, 2020 • 08:59 AM Views 974

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, जुलाई -सितंबर की दूसरी तिमाही में भारत की जीडीपी 7.5 प्रतिशत सिकुड़ गयी है। गौर करें, यह आँकड़े उस काल के हैं जब देश में लॉकडाउन ख़त्म हो चुका था और आर्थिक गतिविधियों को गति देने के लिए सरकार ‘आत्मानिर्भर भारत’ और तमाम दूसरी नई योजनाएँ चला रही थी।

लेकिन ताज़ा जारी आंकड़े बताते है की जुलाई -सितंबर तिमाही में सरकार जो पैसा राज-काज चलाने और कल्याणकारी योजनाओं के लिए खर्च करती है, उसमे असल में कमी आई है। इसका मतलब है की मई महीने में घोषित 20 लाख करोड़ के पैकेज का फ़ायदा लोगो तक नहीं पंहुचा है और सरकार अर्थव्यवस्था में ज्यादा पैसा डालने में नाकाम रही है।

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के आंकड़ों के मुताबिक साल 2020 की पहली तिमाही में सरकार ने 7 लाख 26 हज़ार 278 करोड़ रुपए खर्च किये थे, जबकि इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही यानि जुलाई -सितंबर तिमाही में यह आँकड़ा घटकर रह गया 5 लाख 61 हज़ार 812 करोड़ रुपए।