'मिनी बजट' या बजटबंदी ?

by GoNews Desk Jan 30, 2021 • 06:06 PM Views 1280

देश में जब बीजेपी सरकार बनी थी, तब पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था की वे कानून बनाने में नहीं, बल्कि उन्हें ख़त्म करने में ज्यादा विश्वास रखते है। इसी राह पर आगे बढ़ते हुए उन्होंने कई मंत्रालयों को एक दूसरे में मिलाया, रेल बजट ख़त्म किया और कई चीज़ो में फेरबदल किया। लेकिन पीएम मोदी ने नए बयान से नए कयास शुरू हो गए कि क्या सरकार आम बजट भी ख़त्म करने वाली है ?

दरअसल, मोदी ने बजट सत्र के पहले दिन मीडिया से बात करते हुए कहा 2021-22 के बजट यानि देश के पूरे साल के बहीखाते को 'मिनी बजट' की संज्ञा दी।उन्होंने कहा की लॉकडाउन से चोट खाई अर्थव्यवस्था को उभारने के लिए पिछले 10 महीनों में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा घोषित पैकेजों के हिस्से के रूप में देखा जाना चाहिए।

दरअसल, पीएम मोदी का इशारा 12 मई को ऐलान हुए 20 लाख करोड़ का राहत पैकेज की तरफ था जिसे वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कई प्रेस कांफ्रेंस कर देश को बताया की आखिर किस सेक्टर में कितना पैसा जायेगा। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने इसे जीडीपी का 10 फ़ीसदी हिस्सा बताया था.