IT क्षेत्र में नौकरियों की उथल पुथल जारी; ‘एट्रिशन रेट’ बढ़ी

by GoNews Desk Oct 16, 2021 • 05:35 PM Views 1614

भारत में कोरोना संक्रमण के बाद अब हालात ‘सामान्य’ हो रहे हैं। इस बीच देश के आईटी सेक्टर में बड़ी संख्या में कर्मचारी काम छोड़ कर जा रहे हैं। वित्त वर्ष 2022 की दूसरी तिमाही के अंत तक, 30 सितंबर को सभी बड़ी IT कंपनियों में में चर्न रेट बढ़ गई है। खासतौर पर वह संस्था जहां भारतीय कर्मचारियों की संख्या ज़्यादा है, वहां इस दर में 10 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई है।

क्या है एट्रिशन दर?

एट्रिशन, चर्न रेट या फिर संघर्षण दर का संबंध कर्मचारियों के खुद किसी कंपनी को छोड़ कर जाने से है यानि कि उन्हें संस्था ने काम से नहीं निकाला है बल्कि वह या तो इस्तीफा दे रहे हैं या फिर उनकी मौत हो चुकी है।

कर्मचारियों का इस तरह काम छोड़ कर जाना कंपनी के लिए मुसीबत बन सकता है क्योंकि एक दक्ष कर्मचारी अगर काम छोड़ता है तो इससे कंपनी की उत्पादकता में कमी आती है। इसका एक कारण यह है कि संक्रमण के कारण आईटी सेक्टर में गई नौकरियों की अभी तक भरपाई नहीं हो पाई है।