पैसेंजर गाड़ियों के बाद अब हैवी ड्यूटी कमर्शियल गाड़ियों की बिक्री में भी भारी गिरावट

by Arika Bragta Sep 04, 2019 • 04:38 PM Views 14318

पैसेंजर गाड़ियों के बाद अब हैवी ड्यूटी कमर्शियल गाड़ियों की बिक्री में भी भारी गिरावट दर्ज की गई है। पिछले साल अगस्त के मुकाबले इस साल अगस्त के महीने में हैवी कमर्शियल गाड़ियों की बिक्री में 60 फीसदी तक की कमा आई है। सबसे ज़्यादा असर अशोक लेलैंड की हैवी गाड़ियों पर पड़ा है, अशोक लेलैंड की गाड़ियों में 70 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है।

अशोक लेलैंड ने 2018 के अगस्त महीने में 11,135 गाड़ियां बेची थीं, जबकि इस साल अगस्त में वो सिर्फ़ 3,336 गाड़ियां ही बेच सकी हैं। हैवी ड्यूटी गाड़ियां बनाने वाली सबसे बड़ी कम्पनी टाटा मोटर्स ने पिछले साल अगस्त में 12,715 गाड़ियां बेचीं, जो कि अगस्त 2019 में 58 फीसदी की कमी के साथ केवल 5,340 गाड़ियां ही बिक सकी।

वॉल्वो आइशर ने पिछले साल अगस्त में 6,069 गाड़ियां बेचीं, जिसमें 2019 के अगस्त महीने में 41.7 फीसदी की गिरावट के साथ केवल 3,538 ही गाड़ियां बेच पाई हैं। सरकारी ऐलानों और कोशिशों के बावजूद गाड़ियों की बिक्री में गिरावट का ये सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है।