आईएसएल-7: हैदराबाद एफसी ने 4 मैच में तीसरी बार ड्रॉ खेला, एटीके मोहन बागान पॉइंट टेबल में दूसरे नंबर पर

by GoNews Desk 3 years ago Views 69435

एटीके मोहन बागान एक के बाद एक लगातार आक्रमण किए जा रही थी, लेकिन हैदराबाद के गोलकीपर सुब्रता पॉल भी इन आक्रमणों का बखूबी जवाब दे रहे थे।

ISL-7: Hyderabad FC draw for the third time in 4 m
जोआओ विक्टर द्वारा पेनाल्टी पर दागे गए गोल के सहारे हैदराबाद एफसी ने हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में अपना अजेयक्रम जारी रखा है। हैदराबाद एफसी ने शुक्रवार को फातोर्दा के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले गए मैच में मौजूदा चैम्पियन एटीके मोहन बागान को 1-1 से ड्रॉ पर रोक दिया।

एटीकेएमबी को पांच मैचों में पहली बार ड्रॉ खेलना पड़ा है और अब वह 10 अंकों के साथ तालिका में दूसरे नंबर पर पहुंच गई हैं। वहीं, हैदराबाद को चार मैचों में तीसरी बार ड्रॉ खेलना पड़ा है। टीम छह अंकों के साथ तालिका में पांचवें पायदान पर पहुंच गई है और इस सीजन में उसका अजेयक्रम अब भी जारी है।


मौजूदा चैम्पियन ने अपने नाम के अनुरूप ही मैच की शुरूआत की और नौवें मिनट में ही एक जोरदार हमला बोला। टीम के टॉप गोल स्कोरर रॉय कृष्णा ने प्रीतम कोटाल के क्रॉस पर बॉक्स के सेंटर से शानदार हेडर लगाया, लेकिन वह इस सीजन में अब तक केवल एक ही गोल खाने वाली हैदराबाद के गोलकीपर को नहीं छका पाए।

16वें मिनट में हैदराबाद के सौविक चक्रवर्ती को मैच का पहला पीला कार्ड दिखाया गया। इसके एक मिनट बाद ही कृष्णा अपनी टीम को बढ़त ?दिलाने के बेहद करीब पहुंच गए थे, लेकिन इस बार उनका शॉट वाइड चला गया।

एटीके मोहन बागान एक के बाद एक लगातार आक्रमण किए जा रही थी, लेकिन हैदराबाद के गोलकीपर सुब्रता पॉल भी इन आक्रमणों का बखूबी जवाब दे रहे थे। एटीकेएमबी के खिलाड़ियों ने 28वें और 36वें मिनट में भी आक्रमण किया और पॉल यहां भी चौकन्ने थे। तीन मिनट बाद ही एंटोनियो हबास की टीम के डिफेंडर सुमीत राठी और फिर प्रबीर दास को पीला मिला।

इस तरह पहले हाफ में लगातार आक्रमण के बाववजूद एटीकेएमबी की टीम हैदराबाद की डिफेंस में सेंध नहीं लगा पाई।

दूसरे हाफ में एटीकेएमबी एक बदलाव के साथ उतरी जबकि हैदराबाद के जोआओ विक्टर को पीला कार्ड मिला। अगले ही मिनट में एटीकेएमबी के डेविड विलियम्स और 51वें मिनट में हैदराबाद के सौविक अपनी-अपनी टीमों के लिए खाता खोलने का मौका गंवा बैठे।

हालांकि 54वें मिनट में एटीकेएमबी की टीम हैदराबाद की डिफेंस को भेदने से नहीं चूकी। मानवीर ने बॉक्स के अंदर मिले बॉल को गोलपोस्ट में डालकर एटीके मोहन बागान को 1-0 से आगे कर दिया। मानवीर के इस गोल ने हैदराबाद को सीजन का दूसरा गोल खाने पर मजबूर कर दिया।

पांच मिनट बाद ही हितेश शर्मा हैदराबाद के लिए बराबरी का गोल दागने से चूक गए। लेकिन ऐसा लग रहा था कि किस्मत हैदराबाद के साथ है और हुआ भी ऐसा ही जब 64वें मिनट में एटीकेएमबी के सुमित पेनाल्टी एरिया में फाउल कर बैठे और रेफरी ने हैदराबाद को पेनाल्टी दे दिया।

ब्राजीलियन मिडफील्डर जोआओ विक्टर ने 65वें मिनट में पेनाल्टी को गोल में तब्दील करके हैदराबाद को 1-1 की बराबरी दिला दी।

एटीकेएमबी 71वें और 72वें मिनट में अपनी बढ़त को दोगुना करने से चूक गई। इसके बाद उसने 74वें मिनट में लगातार दो बदलाव किए। वहीं, हैदराबाद के लिए लिस्टन कोलाको भी 79वें मिनट में अपनी टीम की बढ़त को दोगुना नहीं कर पाए।

88वें मिनट में एटीकेएमबी के विलियम्स के शॉट को आफसाइड करार दिया गया और फिर मुकाबला इंजुरी टाइम में चला गया, जहां दोनों ही टीमें 1-1 से बराबरी पर रही और उन्हें अंक बांटना पड़ा।

ताज़ा वीडियो