कौन है मुंबई में फ्री कश्मीर का प्लाकार्ड लहराने वाली महिला?

by Shahnawaz Malik 6 months ago Views 813
Who is the woman who wave free Kashmir's placard i
जेएनयू पर हमले के ख़िलाफ़ देश विदेश में विरोध प्रदर्शनों का दौर जारी है. इस बीच मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया के बाहर एक महिला प्रदर्शनकारी के हाथ में फ्री कश्मीर का पोस्टर दिखने पर राजनीतिक हंगामा शुरू हो गया. यह महिला कौन हैं और फ्री कश्मीर का प्लाकार्ड दिखाने का उनका मतलब क्या है, देखिए यह रिपोर्ट….

जेएनयू हमले के ख़िलाफ़ मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया फ्री कश्मीर का प्लाकार्ड लेकर प्रदर्शन करने वाली महिला महक एक स्टोरीटेलर हैं. महक ने एक बयान जारीकर बताया कि यह प्लाकार्ड लेने की वजह से उनके बारे में तरह-तरह का दुष्प्रचार फैलाया जा रहा है और वो ख़ुद को असुरक्षित महसूस कर रही हैं. महक ने गेटवे ऑफ इंडिया पर फ्री कश्मीर का प्लाकार्ड लेने का मतलब कश्मीर में लगी पाबंदियों से था.

Also Read: Tesla की मॉडल-3 कार लॉन्च, क़ीमत 50,000 डॉलर से शुरू

महक ने कहा कि फ्री कश्मीर का प्लाकार्ड उनके हाथ में दिख जाने पर जिस तरह की हंगामा मचाया गया, वह डराने वाला है.

महक छह जनवरी की शाम गेटवे ऑफ इंडिया पर जेएनयू हमले के विरोध में जारी प्रदर्शन में हिस्सा लेने गई थीं. मगर फ्री कश्मीर का प्लाकार्ड हाथ में लेने के बाद उनपर हमले शुरू हो गए.

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस ने महक को अलगाववादी और आज़ादी गैंग का सदस्य बताते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे की नाक के नीचे कश्मीर की आज़ादी वाला भारत विरोधी प्रदर्शन चल रहा है. बीजेपी नेता किरिट सोमैया इसकी शिक़ायत करने पुलिस स्टेशन पहुंच गए.

वीडियो देखिये

शिवसेना नेता और महाराष्ट्र सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि इस मामले पर ध्यान देने की बजाय पूरे धरना प्रदर्शन पर ध्यान देना चाहिए. आदित्य ठाकरने ने भी कहा कि महक का मकसद कश्मीर से इंटरनेट की पाबंदी हटाए जाने को लेकर था.

कश्मीर में पांच अगस्त के बाद से इंटरनेट सेवा समेत कई पाबंदियां लगी हुई हैं. पांच महीने से जारी इस पाबंदी के चलते हज़ारों करोड़ का नुकसान हो चुका है और सैकड़ों लोग बेरोज़गार हुए हैं.