वैक्सीन की किल्लत बरक़रार, राजधानी दिल्ली में बंद किए गए 100 वैक्सीनेशन सेंटर

by GoNews Desk 1 year ago Views 1940

अब तक, राजधानी दिल्ली में कुल 41,64,612 खुराक दी गई है...

Vaccine shortage: 100 Vaccination Centers Closed i
देश में कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से हालात बेकाबू हैं और अस्पतालों में ऑक्सीजन और बुनियादी सुविधा की कमी बरक़रार है। इस बीच महामारी के जानकार बता रहे हैं कि संक्रमण से बचने के लिए एकमात्र रामबाण वैक्सीन ही बची है लेकिन देश में इसकी भी कमी लंबे समय से देखी जा रही है।

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 12 मई को अपने एक ट्वीट में जानकारी दी है कि वैक्सीन की कमी की वजह से राजधानी में 100 वैक्सीनेशन सेंटर को बंद करनी पड़ी है। 
उप मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट में बताया कि उन वैक्सीनेशन सेंटर को बंद किया गया है जहां भारत बायोटेक की कोवैक्सीन लगाई जा रही थी। 


उप मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, 'सरकार और सीमित उपलब्धता के निर्देशों का हवाला देते हुए कोवैक्सीन ने वैक्सीन की आपूर्ति से इनकार कर दिया है। एक बार फिर मैं कहूंगा कि 6.6 करोड़ खुराक का निर्यात करना सबसे बड़ी गलती थी। हम आपूर्ति नहीं होने के कारण 17 स्कूलों में 100 वैक्सीनेशन सेंटर्स को बंद करने के लिए मजबूर हैं।'

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री ने कहा, 'दिल्ली सरकार ने दो कोविड -19 वैक्सीन की कुल 1.34 करोड़ खुराक की मांग की थी - इनमें कोवैक्सीन और कोवीशील्ड दोनों ही के 67-67 लाख डोज़ शामिल हैं।

इनके अलावा आप विधायक आतिशी मार्लेना ने भी वैक्सीन बुलेटिन साझा की है, इसके साथ ही उन्होंने कोवाक्सिन और कोविशिल्ड दोनों टीकों के पर्याप्त स्टॉक प्रदान करने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि टीकाकरण की दूसरी खुराक उन लोगों के लिए अनिवार्य है जिन्होंने पहली खुराक ली है। 12 मई को उन्होंने अपने एक ट्वीट में कहा, 'कोविशिल्ड के नौ दिनों का स्टॉक बचा हुआ है जबकि कोवाक्सिन का स्टॉक 18-44 आयु वर्ग के लोगों के लिए ख़त्म हो गया है।'

'45 साल से अधिक उम्र के स्वास्थ्य सेवा और फ्रंटलाइन श्रमिकों और लाभार्थियों के लिए, कोवाक्सिन का चार दिनों और कोवीशील्ड का तीन दिनों का स्टॉक बचा है।'

ग़ौरतलब है कि 11 मई तक, कम से कम 83,229 लोगों को पहली खुराक दी गई, जबकि 44,971 को दूसरी खुराक दी गई। अब तक, राजधानी दिल्ली में कुल 41,64,612 खुराक दी गई है।

ताज़ा वीडियो