टूलकिट बनाने का उद्देश्य भारत के ख़िलाफ़ सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक युद्ध शुरु करना है - दिल्ली पुलिस

by GoNews Desk 11 months ago Views 2414

'इसको (टूलकिट) बनाने वालों का उद्देश्य भारत के खिलाफ सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक युद्ध शुरु करना है।'

"Toolkit" More than 300 social media handles shari
"'दिल्ली पुलिस किसानों के तीन धरनास्थलों पर निगरानी कर रही है। दिल्ली पुलिस किसान आंदोलन को लेकर सोशल मीडिया की भी निगरानी कर रही है। शनिवार को एक बयान जारी कर दिल्ली पुलिस ने कहा कि 300 सोशल मीडिया हैंडल्स को चिन्हित किया है जो नफरत भरे पोस्ट कर रहे हैं। ये सभी या तो कोई संस्था है या कोई शख्स जो इन हैंडल्स का इस्तेमाल कर सरकार के ख़िलाफ़ वैमनस्य फैला रहे हैं।'

'सोशल मीडिया की निगरानी के दौरान एक ‘टूलकिट’ नाम की दस्तावेज़ पुलिस की नज़र में आया है। यह दस्तावेज़ किसी विशेष सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से अपलोड किया गया था।'


इस दस्तावेज़ को लेकर शुरुआती जांच में पता चला है कि यह ‘टूलकिट’ नाम की दस्तावेज़ प्रो खालिस्तानी संस्था ‘पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन’ द्वारा बनाया गया था।

दस्तावेज़ में ‘प्रायर एक्शन’ के नाम से एक खंड है जिसमें कुछ एक्शन प्लान बताए गए हैं जैसे-

  • 26 जनवरी को और उससे पहले हैशटैग के माध्यम से डिजिटल स्ट्राइक
  • 23 जनवरी को ट्वीट्स स्टॉर्म
  • 26 जमवरी को फिज़िकल एक्शन
'26 जनवरी की हिंसा सहित पिछले कुछ दिनों की घटनाओं के खुलासा होने से ‘टूलकिट’ में विस्तार से 'एक्शन प्लान' दिए गए हैं।'

'‘टूलकिट’ बनाने की मंशा विभिन्न सामाजिक, धार्मिक और सांस्कृतिक समूहों के बीच असहमित पैदा करने और सरकार के ख़िलाफ़ असहमित पैदा करने की कोशिश है।'

'इसको बनाने वालों का उद्देश्य भारत के खिलाफ सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक युद्ध शुरु करना है।'

'इस मामले में दिल्ली पुलिस ने धारा 124-ए (राजद्रोह), 153-ए (धर्म, भाषा, नस्ल वगैरह के आधार पर लोगों में नफरत फैलाने की कोशिश), 153 (लिखित या मौखिक रूप से दिया गया बयान जिससे साम्प्रदायिक दंगा या तनाव फैल सकता है), और 120-बी के तहत मामला दर्ज किया है जिसकी जांच दिल्ली पुलिस के साइबर सेल द्वारा की जाएगी।'   "

ताज़ा वीडियो

ताज़ा वीडियो

Facebook Feed