देश में औद्योगिक क्षेत्र की हालत चिंताजनक, कंपनियों का मुनाफा 40 फीसदी तक कम: CMIE

by Rahul Gautam 1 year ago Views 2912

The situation of the industrial sector in the coun
आर्थिक मंदी और कोरोना महामारी से जूझ रही करोड़ों ज़िंदगियों को वापस पटरी पर लाने में जुटी है लेकिन ऐसा कर पाना आसान नहीं है। बर्बादी की कगार पर पहुंच चुकी अर्थव्यवस्था में जान फूकना मुश्किल होता जा रहा है। अब सेंट्रल फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी यानि सीएमआईई की जून माह की रिपोर्ट बताती है कि इंडेक्स ऑफ़ इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन (आईआईपी) यानि औद्योगिक उत्पादन सूचकांक पाताल चूम रहा है। दरअसल, ये सूचकांक देश की औद्योगिक क्षेत्र के उत्पादन के स्थिति के बारे में जानकारी देता है।

ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक भारत में आईआईपी -36 पर जा पंहुचा है। आसान भाषा में समजाये तो देश में औद्योगिक क्षेत्र की स्थिति बेहद चिंताजनक है लेकिन बर्बादी की कहानी तो पिछले वर्ष सितम्बर में शुरू हो गयी थी। उस समय के आंकड़ों पर गौर करे तो मालूम पड़ता है की आईआईपी उसी समय नेगेटिव हो गया था। उसके बाद स्थिति दिसंबर 2019 में और ख़राब हुई, मार्च में बदतर हुई और जून में कोरोना और लॉकडाउन की वजह से चीज़े हाथ से निकल गयी।


गिरती अर्थव्यवस्था के लिए सरकार महामारी को ज़िम्मेदार बता रही है लेकिन इन आंकड़ों से साफ़ है भारत की अर्थव्यवस्था पिछले 2 सालों से लगातार कमज़ोर होती जा रही थी और बची-कुछ कसर कोरोना महामारी ने निकाल दी।

अब इसके बाद एक और चिंता का सबब है लगातार उद्योग-धंधों पर ताले लगना। वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में आये आंकड़े बताते हैं कि 1,560 लिस्टेड कंपनियों ने रिपोर्ट किया है कि उनकी आमदनी 26 फीसदी, खर्चे 28 फीसदी और मुनाफा 24.6 फीसदी घट गया। ध्यान रहे ये लॉकडाउन लगने के बाद आयी पहली तिमाही का आंकड़ा है।

इसी समय काल में 1,241 नॉन-फाइनेंसियल कंपनियों ने 36.3 फीसदी आमदनी, 37.5 फीसदी खर्चे और लगभग 41 फीसदी मुनाफा कम हुआ है। अर्थव्यवस्था के लिए साल 2019 किसी बुरे सपने जैसा साबित रहा जहां जीडीपी की रफ़्तार 5 फ़ीसदी से नीचे चली गयी थी और बेरोज़गारी अपने चरम पर थी. तब चौतरफ़ा हमलों का सामना कर रही सरकार ने कहा था कि यह मंदी शार्ट-टर्म है लेकिन नए आंकड़े बताते हैं कि अर्थव्यवस्था ज़बरदस्त मंदी की गिरफ्त में है और सरकार कोरोना की आड़ में अपनी नाकामी नहीं छिपा सकती.

ताज़ा वीडियो