ads

एलएसी पर हालात नाज़ुक और तनावपूर्ण लेकिन बातचीत से हल निकलने की उम्मीद: सेनाध्यक्ष

by Shahnawaz Malik 8 months ago Views 1199

Situation on LAC is delicate and tense but talks c
सेनाध्यक्ष मनोज मुंकद नरवाणे ने कहा है कि एलएसी पर हालात नाज़ुक और गंभीर हैं. हालिया घटनाक्रमों के चलते सेना ने एलएसी पर सुरक्षा बढ़ाने के लिए कुछ ज़रूरी क़दम उठाए हैं.

सेनाध्यक्ष नरवाणे एलएसी पर सुरक्षा हालात का जायज़ा लेने के लिए दो दिनों के लद्दाख़ दौरे पर हैं. वो गुरुवार को लेह पहुंचे जहां भारत-चीन के तक़रीबन एक लाख सैनिक तैनात हैं.


उन्होंने कहा कि पिछले तीन महीने से सीमा पर हालात नाज़ुक बने हुए हैं. हालांकि सैन्य और राजनयिक स्तर पर बातचीत जारी है. सेनाध्यक्ष नरवाणे को उम्मीद है कि एलएसी को लेकर जारी विवाद का हल बातचीत के ज़रिए निकल आएगा.

उन्होंने यह भी कहा कि एलएसी पर तैनात जवान जोश से भरे हुए हैं और किसी भी हालात का सामना करने और उसे संभालने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. उन्होंने कहा कि भारतीय सेना के सैन्य अफ़सर और जवान दुनिया में सबसे बेहतर हैं. वे सिर्फ सेना ही नहीं देश के लिए भी गर्व करने की वजह हैं.

इससे पहले चीफ़ ऑफ़ डिफेंस स्टाफ मेजर जनरल बिपिन रावत ने कहा कि लद्दाख में भारत चीन के बीच बढ़ते तनाव के मद्देनज़र पाकिस्तानी सेना उत्तरी सीमा पर कुछ हरकत कर सकती है. हालांकि उन्होंने चेतावनी जारी की है कि अगर ऐसा कुछ भी हुआ तो पाकिस्तान को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है.

रावत ने आशंका ज़ाहिर की है कि उत्तरी और पश्चिमी सीमा पर पाकिस्तान और चीनी सेना की ओर से मिलकर कार्रवाई की कोशिश हो सकती है लेकिन भारतीय सेना इस संयुक्त ख़तरे का जवाब देने में पूरी तरह सक्षम है.

ताज़ा वीडियो