सऊदी अरब ने भारत से आने-जाने वाली उड़ानों पर रोक लगाई, 26 लाख भारतीय हो सकते हैं प्रभावित

by M. Nuruddin 1 year ago Views 8402

Saudi Arabia bans flights to and from India; 26 la
सऊदी अरब ने कोरोना के बढ़ते मामलों का हवाला देते हुए भारत, ब्राज़ील और अर्जेंटीना की उड़ानों पर रोक लगा दी है। बुधवार को सऊदी अरब के उड्डयन मंत्रालय अपने बयान में कहा, 'सरकारी मंजूरी मिले लोगों को छोड़कर पिछले 14 दिनों से भारत, ब्राजील और अर्जेंटीना में रहने वाले किसी भी नागरिक को सऊदी अरब में एंट्री नहीं दी जाएगी।'

सऊदी उड्डयन मंत्रालय के मुताबिक़ भारतीय एयरलाइंस को फ़िलहाल सऊदी अरब के लिए कोई भी फ्लाइट संचालित करने की अनुमति नहीं होगी और न ही सऊदी अरब की किसी भी फ्लाइट को भारत आने की अनुमति दी जाएगी। सऊदी सरकार ने फ़िलहाल ये साफ नहीं किया है कि यह पाबंदी कबतक लागू रहेगी।


हालांकि भारत की नज़र से देखें तो ये फैसला किसी झटके से कम नहीं है क्योंकि दुनिया में सबसे ज़्यादा कोरोना के मामले भारत में सामने आ रहे हैं तो ऐसे में पाबंदी कई दिनों तक रह सकती है। सऊदी सरकार का भारत की उड़ानों पर पाबंदी लगाने का फैसला अन्य खाड़ी मुल्कों को भी यही कदम उठाने के लिए प्रेरित कर सकता है जो भारत के लिए नुक़सानदेह साबित होगा।

सरकारी आंकड़े बताते हैं कि खाड़ी मुल्कों में 81 लाख 47 हज़ार 851 भारतीय रहते हैं। इनमें सऊदी अरब दूसरा ऐसा खाड़ी मुल्क है जहां भारतीयों की तादाद सबसे ज़्यादा है। यहां 25 लाख 94 हज़ार 947 भारतीय काम कर अपनी रोजी-रोटी चलाते है।

वहीं विदेश मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक़ यूनाइटेड अरब अमीरात में सबसे ज़्यादा 34 लाख 20 हज़ार भारतीय रहते हैं। इनके अलावा कुवैत में 10 लाख 29 हज़ार 861, ओमान में 7 लाख 79 हज़ार 351, क़तर में 7 लाख 56 हज़ार 062 और बहरीन में 3 लाख 23 हज़ार 292 भारतीय रह रहे हैं।

बता दें कि पिछले कुछ महीने में एयर इंडिया, स्पाइसजेट और इंडिगो समेत ज़्यादातर एयरलाइंस ने सऊदी अरब के लिए चार्टर उड़ाने और रेस्क्यू उड़ानें संचालित की हैं। इसी तरह विदेशों में रह रहे भारतीयों को स्वदेश लाने के लिए केन्द्र सरकार ने कई मुल्कों के साथ एयर बब्बल्स की व्यवस्था शुरू की है जिसमें सऊदी अरब शामिल नहीं है। एयर बब्बल्स की यह व्यवस्था एक अस्थायी द्विपक्षीय समझौता है जिसके तहत दो देश आपस में उड़ाने संचालित कर रहे हैं।

बता दें कि केन्द्र सरकार ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर 30 सितंबर तक पाबंदी लगा रखी है। हालांकि इस दौरान चार्टर उड़ाने, रेस्क्यू उड़ानें उड़ाने और एयर बब्बल्स के तहत होने वाली उड़ानों को संचालित करने की अनुमति है।

ताज़ा वीडियो