Renewable Energy: क्या भारत ने 2030 से पहले अपना लक्ष्य हासिल कर लिया ?

by M. Nuruddin 1 month ago Views 928

Renewable Energy: Has India achieved its target be
साल 2015 में क्लाइमेट पर पेरिस में आयोजित एक सम्मेलन में भारत सरकार ने 2030 तक ग़ैर-जीवाश्म ऊर्जा स्रोतों या नॉन-फॉसिल एनर्जी सोर्सेज़ से स्थापित बिजली क्षमता का 40 फीसदी हिस्सा प्राप्त करने का लक्ष्य रखा था।

पिछले दिनों सरकार ने दावा किया कि भारत ने अपने इस लक्ष्य को नवंबर 2021 में ही हासिल कर लिया है। सरकार ने दावा किया कि भारत का कुल Installed Renewable Energy (RE) Capacity) 156.83 गीगावॉट तक पहुंच गई, जो पूरी तरह से स्थापित बिजली क्षमता का 40.1 फीसदी है।


हालांकि अगर हम आंकड़े देखें तो पता चलता है कि भारत रीन्यूएबल एनर्जी सोर्सेज़ से पॉवर जेनरेशन में अपने वास्तविक लक्ष्य से काफी पीछे है। मसलन सिर्फ ग़ैर-जीवाश्म ऊर्जा क्षमता स्थापित करने ही भर से हम अपने लक्ष्य तक नहीं पहुंच सकते।

केन्द्र सरकार का कहना है कि भारत के पास कुल 390.8 गीगावाट स्थापित बिजली क्षमता है। अगर हम इनमें थर्मल बिजली प्लांट से बिजली उत्पादन की बात करें तो भारत इसे कम करने की दिशा में पीछे है।

भारत का इसी साल के सितंबर महीने में कुल बिजली उत्पादन 122 बिलियन यूनिट रहा और इनमें 90.53 बिलियन यूनिट बिजली थर्मल एनर्जी सोर्सेज़ से प्राप्त हुए। ज़ाहिर है इस तरह भारत रीन्यूएबल एनर्जी पर अपनी निर्भरता क़ायम करने की दिशा में पिछड़ सकता है।

भारत को रिन्यूएबल एनर्जी पर अपनी निर्भरता क़ायम करने के लिए थर्मल एनर्जी सोर्सेज़ पर अपनी निर्भरता कम करनी होगी जो क्लाइमेट के लिए भी फायदेमंद साबित होगा।

सरकारी वेबसाइट के मुताबिक़ इसी साल अगस्त महीने में भारत ने रीन्यूएबल एनर्जी सोर्सेज़ से कुल 16.9 बिलियन यूनिट बिजली का उत्पादन किया, जो कुल बिजली उत्पादन का 13.85 फीसदी है।

अब केन्द्र हाइड्रो पॉवर प्लांट को भी रीन्यूएबल एनर्जी का सोर्स मानता है जिसका कुल उत्पादन सितंबर 2021 में 17.8 बिलियन यूनिट रहा जो कुल उत्पादन का 14.59 फीसदी है। इनके अलावा कुछ अन्य सोर्सेज़ भी हैं जहां से रीन्यूएबल एनर्जी प्राप्त होते हैं। अगर हम सभी को जोड़ दें तो भारत का कुल पॉवर जेनरेशन में रीन्यूएबल एनर्जी का योगदान 28.44 फीसदी है। 

यानि भारत के कुल बिजली उत्पादन में Installed Renewable Energy (RE) Capacity 40 फीसदी है लेकिन इससे बिजली का उत्पादन सिर्फ 28.44 फीसदी है। COP26 का भी यह लक्ष्य है कि रीन्यूएबल एनर्जी सोर्सेज़ से पॉवर जेनरेशन को बढ़ाया जाए ना कि इसकी Installation Capacity को।

ताज़ा वीडियो

ताज़ा वीडियो

Facebook Feed