बलात्कार के मामले बढ़े! महात्मा गांधी की समाधि पर विरोध-प्रदर्शन

by M. Nuruddin 2 years ago Views 2168

Rape cases increased Protests at Mahatma Gandhi's
देश में दिन-प्रति दिन बलात्कार की वारदातों में बढ़ोतरी हो रही है। बीते दिनों हैदराबाद में एक महिला डॉक्टर को दुष्कर्म के बाद ज़िन्दा जला दिया गया। वहीं उत्तर प्रदेश के रायबरेली में उन्नाव की एक युवती को आग के हवाले कर दिया गया जो अपने केस की पारवी के लिये अदालत जा रही थीं। जिसमें युवती 95 फीसदी तक जल चुकी थीं। शुक्रवार रात दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में युवती की मौत हो गई। पूर्व मुख्यमंत्रियों अखिलेश यादव और मायावती ने इसकी भर्तस्ना की हैं।

साल 2017 में आई एनसीआरबी की रिपोर्ट कहती है कि देश भर में एक साल के भीतर 32 हज़ार से भी ज़्यादा दुष्कर्म के मामले दर्ज किये गए। जिसमें मध्यप्रदेश पहले नंबर पर है वहीं नगालैंड में सबसे कम दुष्कर्म की वारदातें हुईं।


मध्यप्रदेश में 5,598 दुष्कर्म के मामले दर्ज हुए। उत्तर प्रदेश में 4,669, राजस्थान में 3,319, ओड़िशा में 2,082 और असम में 2,048 मामले दर्ज किये गए। जिन राज्यों में दुष्कर्म की वारदात कम हुई उसमें नगालैंड में 10, सिक्किम में 17, मणिपुर में 25, मिज़ोरम में 41 और अरुणाचल प्रदेश में 71 दुष्कर्म के मामले दर्ज हुए।

कांग्रेस प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने गोन्यूज़ से बात-चीत में कहा कि बीते 11 महीने में उत्तर प्रदेश के केवल उन्नाव में दुष्कर्म की 86 वारदातें हो चुकी हैं। उन्होंने यूपी के योगी राज को जंगल राज बताया।

रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश महिला उत्पीड़न के मामले में टॉप पर है। यूपी में महिला उत्पीड़न के 55 हज़ार से भी ज़्यादा मामले दर्ज किये गए। वहीं महाराष्ट्र में 31,979, पश्चिम बंगाल में 30,992, मध्य प्रदेश में 29,788 और राजस्थान में 25,993 महिला उत्पीड़न के मामले दर्ज हुए।

दिन-प्रति-दिन महिलाओं और बच्चियों के साथ बढ़ती घटनाओं को केन्द्र और राज्य सरकारें रोक पाने में नाकाम साबित हो रही है। देश में जगह-जगह इसके विरोध में प्रदर्शन हो रहे हैं। शनिवार की शाम को हज़ारों लोगों ने दिल्ली में महात्मा गांधी की समाधि पर इकट्ठा होकर विरोध प्रदर्शन किया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर पानी की बौछार की जिसमें कई लोग घायल हो गए।

ताज़ा वीडियो