दिल्ली पर कोरोना के साथ प्रदूषण की भी मार, जनकपुरी में AQI 370 के क़रीब

by Ankush Choubey 1 year ago Views 1177

Pollution hits Delhi with Corona, close to AQI 370
देश की राजधानी दिल्ली, कोरोना के साथ-साथ प्रदूषण की भी गिरफ़्त में है। दिवाली के बाद दिल्ली के कई इलाकों एयर क्वालिटी इंडेक्स 999 के करीब पहुंच गया था। हालाँकि, उसके बाद हवा चलने से कुछ दिन सुधार देखा गया, लेकिन अब प्रदूषण एक बार फिर बढ़ने लगा है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मोबाइल ऐप ‘समीर’ के आंकड़ों के मुताबिक सोमवार को  दिल्ली में एयर क्वालिटी इंडेक्स अधिकतम 370 के करीब दर्ज किया गया है, जो बेहद खराब की श्रेणी में आता है।


दिल्ली के जनकपुरी में वायु की गुणवत्ता सबसे दूषित रही। जनकपुरी में एयर क्वालिटी इंडेक्स यानी एक्यूआई 368 दर्ज किया गया। इसके आलावा लाजपत नगर में 329, वज़ीरपुर में 326, अशोक विहार और बवाना में 321-321, चांदनी चौक और रोहिणी में 314-314, आनंद विहार में 312 और सुल्तानपुरी में AQI 311 दर्ज किया गया।

दिल्ली से सटे नोएडा-ग़ाज़ियाबाद में भी वायु गुणवत्ता काफी खबर श्रेणी में रही। गाज़ियाबाद के लोनी में एयर क्वालिटी इंडेक्स 368 दर्ज किया गया। जबकि संजय नगर में AQI 321 दर्ज किया गया।  नोएडा के सेक्टर 116 में प्रदूषण सबसे ज्यादा रहा। यहाँ पर एयर क्वालिटी इंडेक्स 302 दर्ज किया गया।  इसके आलावा नोएडा सेक्टर-62 में 288 और ग्रेटर नॉएडा में AQI 284 दर्ज किया गया।

गुरुग्राम की हवा भी पहले के मुकाबले ख़राब रही। गुरुग्राम के सेक्टर 51 में पीएम 2.5 का स्तर 304 दर्ज किया गया, गुरुग्राम के विकास खंड में AQI 297  जबकि मानेसर में AQI 281 दर्ज किया गया।  सफर इंडिया के  अनुसार, रविवार को हवा की रफ्तार 12 किलोमीटर प्रति घंटा दर्ज की गई। इससे प्रदूषण के तत्वों को बढ़ने में मदद मिली। वहीं, वेंटीलेशन इंडेक्स 6 हज़ार 500 वर्ग मीटर प्रति सेकंड दर्ज किया गया।

सोमवार से हवा की रफ्तार 8 किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती है। इसके अलावा वेंटिलेशन इंडेक्स 15 हज़ार  वर्ग मीटर प्रति सेकंड तक पहुंच सकता है। इससे राजधानी की हवा के ‘खराब’ से ‘बहुत खराब’ श्रेणी में पहुँचने की आशंका है।

ताज़ा वीडियो