भारत में Omicron की एंट्री, कर्नाटक में दो मामलों की हुई पुष्टि; केंद्र ने कहा- ‘घबराने की ज़रूरत नहीं’

by Sarfaroshi 1 month ago Views 2099

omicron in india

अमेरिका के बाद अब भारत में भी कोरोना के नए वेरिएंट ऑमिक्रॉन की एंट्री हो गई है। वीरवार को केंद्रिय स्वास्थ्य मंत्रालय ने  औपचारिक तौर पर कर्नाटक में 2 मामलों की पुष्टि की है। स्वास्थ्य मंत्रालय के जॉइन सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने आज एक  प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि 46 साल और 66 साल के दो पुरूषों में नया वेरिएंट पाया गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक दोनों ही  संक्रमित मरीज विदेशी नागरिक हैं। 

इस खबर के सामने आते ही भारत में संक्रमण के हालातों को लेकर चिंता जताई जा रही है हालांकि संयुक्त सचिव ने कहा है कि ‘घबराने की ज़रूरत नहीं है।’ उन्होंने कहा, “ऑमिक्रॉन का पता लगाने से घबराने की जरूरत नहीं है लेकिन जागरूकता आवश्यक है। Coivd-उपयुक्त व्यवहार का पालन करें और भीड़ से बचें।” उन्होंने यह भी कहा कि इस समय सबसे ज़्यादा ज़रूरी टीकाकरण हैं और लोगों को बिना वक्त गंवाए पूर्ण टीकाकृत होना चाहिए। 

अग्रवाल ने बताया कि संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लोगों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जा रही है और उनका टेस्ट किया जाएगा। भारत से पहले अमेरिका में भी कोरोना के नए वेरिएंट ऑमिक्रॉन की पुष्टि हो चुकी है। वहां बुधवार को ऑमिक्रॉन के पहले मामले की पुष्टी की हुई है। वेरिएंट दक्षिण अफ्रीका से कैलिफॉर्निया आए यात्री में पाया गया है। अमेरिका के national Institute of Allergy and Infectious Diseases प्रमुख डॉ फॉसी ने एक बयान में कहा कि यह शख्स 22 नवंबर को देश आया था और इसे 29 नवंबर को संक्रमित पाया गया।

डॉ फॉसी के मुताबिक संक्रमित व्यक्ति पूर्ण टीकाकृत है और इसे फिलहाल क्वारींटीन में रखा गया है। इस बीच राहत की बात यह है कि शख्स के संपर्क में आए लोगों का कोरोना टेस्ट नेगेटिव आया है। 

सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में पाया गया ऑमिक्रॉन अब तक 24 देशों में पहुंच गया है। इस वेरिएंट को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ‘वेरिएंट ऑफ कंसर्न’ की श्रेणी में रखा है। संगठन प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रेयियस ने बुधवार को कहा कि वेरिएंट से प्रभावित देश   5 या 6 WHO क्षेत्र में स्थित हैं और इनकी संख्या बढ़ने की संभावना है।

एक प्रेस ब्रीफ में WHO प्रमुख ने कहा, “हम हर समय ओमाइक्रोन के बारे में ज़्यादा जानकारी पा रहे हैं, लेकिन ट्रांस्मीशन, रोग की गंभीरता, और टेस्ट, चिकित्सीय और टीकों के असर पर इसके प्रभाव के बारे में जानने के लिए अभी और भी बहुत कुछ है।”

बता दें कि अमेरिका से पहले बधुवार को दक्षिण कोरिया, नाइजीरिया और सऊदी अरब में भी कोविड के नए वेरिएंट के मामलों की पष्टि हुई है। अब तक 23 देशों में वेरिएंट दस्तक दे चुका है जिनमें बोत्सवाना, दक्षिण अफ्रीका, ब्रिटेन, दक्षिण कोरिया, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान डेनमार्क, पुर्तगाल और स्पेन आदि शामिल हैं।

इनमें दक्षिण अफ्रीका वेरिएंट से सबसे ज़्यादा प्रभावित हुआ है वहां इसके 77 मामलों की पुष्टि हुई है जबकि ब्रिटेन में 22, बोत्सवाना में 19, नीदरलैंड में 16 और पुर्तगाल में 13 मामले मिले हैं। भारत में जहां कोरोना के नए वेरिएंट की पुष्टि हो चुकी है वहीं कुछ और संक्रमित मामलों पर भी आशंका जताई जा रही है।

बीते दिनों दक्षिण अफ्रीका के केप्टाउन से ठाणे के डोम्बीवली आया शख्स संक्रमित पाया गया था वहीं जोखिम वाले देशों से दिल्ली आए चार और संक्रमित लोगों को अस्पताल में शिफ्ट किया गया है। लंदन से आ रही 243 यात्रियों की फ्लाइट में वीरवार  को इंदिरा गांधी अंतराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर संक्रमित पाया गया है। इनके सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए हैं।

ताज़ा वीडियो

ताज़ा वीडियो

Facebook Feed