Omicron: गुजरात में मिला वेरिएंट का तीसरा मामला; EU में बढ़े कोविड के मामले, नई अपडेट

by Sarfaroshi 1 month ago Views 1483

covid variant

भारत में कोविड के नए वेरिएंट ऑमिक्रॉन के तीसरे मामले की पुष्टि की हो चुकी है। ऑमिक्रॉन से प्रभावित देश जिम्बाबवे से गुजरात लौटा व्यक्ति तीसरा संक्रमित मरीज बन गया है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि जामनगर में  संक्रमित शख्स का सैंपल टेस्ट के लिए पुणे भेजा गया है। इससे पहले कर्नाटक में पहले दो मामलों की पुष्टि हुई थी।

ऑमिक्रॉन की तस्वीर साफ़ नहीं

ऑमिक्रॉन को लेकर विशेषज्ञ अलग अलग दावे कर रहे हैं। कई स्टडी रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि यह वेरिएंट अब तक के सबसे संक्रामक और गंभीर डेल्टा वेरिएंट से भी नुकसानदेह साबित हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि वेरिएंट में 50 से ज़्यादा म्यूटेंट हैं। इसमें से अकेले 32 सिर्फ स्पाइक प्रोटीन में हैं। इसका मतलब यह कि वेरिएंट वैक्सीन को भी निष्प्रभावी कर सकता है लेकिन कई रिपोर्ट्स में प्रारंभिक आंकड़ों के आधार पर इन दावों का खंडन किया गया है

38 देशों में फैला लेकिन अब तक ऑमिक्रॉन से मौत की पुष्टि नहीं

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ऑमिक्रॉन पर अपडेट देते हुए इसके पूरी दुनिया में फैलने की आशंका जताई है। संगठन ने नए वेरिएंट के 38 देशों में फैलने की भी पुष्टि की है जबकि दो दिन पहले तक वेरिएंट 23 देशों में पाया जा चुका था। ट्यूनेशिया और भारत जैसे देश इनमें नए हैं। वहीं बोत्सवाना, ब्रिटेन, अमेरिका, फ्रांस, हांगकांग और सऊदी अरब में भी मामले पाए गए हैं। मंगलवार तक दुनियाभर में ऑमिक्रॉन के 375 केस पाए जा चुके हैं हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि अब तक नए वेरिएंट के मरीज की मौत का कोई मामला सामने नहीं आया है। (MAP)

प्रभावित देशों में संक्रमण मे इज़ाफा; क्या ऑमिक्रॉन का असर? 

बीते हफ्ते ऑमिक्रॉन की पुष्टि होने के बाद से यूरोप और दक्षिण अफ्रीका जैसे देश संक्रमण के बढ़े हुए मामलों से जूझ रहे हैं। इससे वैश्विक स्तर पर भी कोविड टोल बढ़ रहा है। वर्लडोमीटर के 3 दिसंबर के आंकड़ों के मुताबिक अब तक 26 करोड़ से ज़्यादा लोग कोविड से संक्रमित हो चुके हैं जबकि 52 लाख से ज़्यादा मरीज मारे गए हैं।

दक्षिण अफ्रीका में संक्रमित मामलों में इज़ाफा देखा जा रहा है। रोज़ औसतन करीब 7,000 मामले दर्ज हो रहे हैं जो कि 8 जुलाई के बाद सबसे ज़्यादा हैं। एक और प्रभावित देश फ्रांस भी इस समय संक्रमण की लहर से गुजर रहा है। वहां 3 दिसंबर को कोविड के 49,858 मामले सामने आए। संक्रमण के यह मामले अप्रैल के बाद सबसे ज़्यादा हैं।

इंग्लैंड में भी कोविड संक्रमित मरीजों की संख्या में रोज़ इज़ाफा हो रहा है। वहां 10 नवंबर को संक्रमण के 31,541 केस दर्ज हुए। इसके बाद संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी और घटने का सिलसिला शुरू हुआ। 3 दिसंबर को इंग्लैंड में कोविड के 43,888 केस सामने आए हालांकि कई रिपोर्ट में कहा गया है कि बढ़े हुए मामलों का कारण ऑमिक्रॉन नहीं बल्कि डेल्टा वेरिएंट है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन समेत कई और अंतराष्ट्रीय संस्थाओं ने साफ किया है कि अभी ऑमिक्रॉन के बारे में कोई भी दावा करना काफी जल्दबाज़ी होगा हालांकि इस बीच और कई यूरोपिय देशों में संक्रमण और इसके प्रभाव में इज़ाफा हुआ है।डाउन टू अर्थ ने 2 दिसंबर को अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि डेनमार्क में कोविड से मौत की संख्या 92% बढ़ गई है जबकि स्पेन में 54%, जर्मनी में 32 फीसदी का इज़ाफा हुआ है।

ऑमिक्रॉन वेरिएंट के पहले मामले पर उलझन

दावे के मुताबिक ऑमिक्रॉन का सबसे पहला मामला दक्षिण अफ्रीका में सामने आया। उसने 24 नवंबर को बहुत अधिक म्यूटेशन वाले वेरिएंट की जानकारी WHO को दी और 26 नवंबर को इसे ‘वेरिएंट ऑफ कंसर्न’ घोषित किया गया हालांकि नीदरलैंड का कहना है कि संक्रमण का पहले वहां मिला है। डच अथॉरिटी का कहना है कि उसने 19 और 23 नंवबर को लिए सैंपल के स्पाइक प्रोटीन में कुछ बदलाव देखे और यह अंदाज़ा लगाया कि ऐसा ऑमिक्रॉन वेरिएंट के कारण हो सकता है। नीदरलैंड के National Institute for Public Health and the Environment ने 29 नवंबर को पहले मामले की पुष्टि की। अभी यह पता लगाया जा रहा है कि क्या संक्रमित मरीजों ने दक्षिण अफ्रीका की यात्रा की थी। 

ऑमिक्रॉन की पुष्टि के बाद भारत के हालात

भारत में फिलहाल कोरोना के मामले स्थिर हैं। गुरूवार को कर्नाटक में 2 विदेशी नागरिकों को ऑमिक्रॉन से संक्रमित पाया गया है। सरकार की तरफ से ऑमिक्रॉन की यह पहली पुष्टि थी। भारत में 3 दिसंबर को 8,603 संक्रमित केस दर्ज किए गए जबकि साप्ताहिक औसत 8659 का है हालांकि आलोचकों का कहना है कि भारत को संक्रमण की पहली और दूसरी लहर के दौरान की गई ‘लापरवाहियों’ से सीख लेनी चाहिए। ऐसी भी आशंका जताई जा रही है कि वेरिएंट की रोकथाम में ढील दी गई तो ऑमिक्रॉन भारत में तीसरी लहर का कारण बन सकता है।   

ताज़ा वीडियो

ताज़ा वीडियो

Facebook Feed