Nobel Peace Prize का ऐलान, दो पत्रकार किए गए सम्मानित

by M. Nuruddin 7 months ago Views 2132

Nobel Peace Prize announced, two journalists honor
नोबेल केमेटी ने साल 2021 के लिए नोबेल पीस प्राइज़ का 8 अक्टूबर को ऐलान कर दिया है। इस साल का नोबेल शांति पुरस्कार दो पत्रकारों को दिया गया है। इनमें एक पत्रकार मारिया रसा फिलीपीन की रहने वाली हैं और नोबेल के शांति पुरस्कार के लिए चुनी गईं पहली महिला हैं। दूसरे, रूस के संपादक दिमित्री मुराटोव हैं जिन्हें “अभियव्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा करने की कोशिशों के लिए इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

नोबेल कमेटी के मुताबिक़, संपादक दिमित्री मुराटोव ने दशकों से तेजी से चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में रूस में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का बचाव किया। वो 1993 में शुरु की गई समाचार पत्रिका नोवाजा गज़ेट के संस्थापकों में एक हैं। अख़बार के शुरू होने के बाद से अब तक इसके छह पत्रकार मारे जा चुके हैं।


पत्रकारों की हत्याओं और धमकियों के बावजूद, नोवाजा गज़ेट के प्रधान संपादक दिमित्री मुराटोव ने अख़बार की स्वतंत्र नीति को बनाए रखा है। नोबेल समिति के बयान में कहा गया है कि उन्होंने लगातार पत्रकारों के अधिकारों का बचाव किया है। दिमित्री मुराटोव सोवियत नेता मिखाइल गोर्बाचेव के बाद नोबेल शांति पुरस्कार जीतने वाले पहले रूसी हैं - जिन्होंने 1990 में पुरस्कार जीतने से प्राप्त हुए धन से नोवजा ग़ज़ेट की स्थापना में मदद की थी।

नोबेल समिति के बयान में कहा गया है कि इस साल की पहली महिला नोबेल पुरस्कार विजेता मारिया रसा अपने मूल देश फिलीपींस में सत्ता के दुरुपयोग, हिंसा के इस्तेमाल और बढ़ती सत्तावाद को बेनकाब करने के लिए अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का बचाव करने का काम किया। 2012 में, उन्होंने इन्वेस्टिगेटिव पत्रकारिता के लिए एक डिजिटल मीडिया कंपनी रैपलर की सह-स्थापना की।

मीडिया कंपनी Rappler ने राष्ट्रपति दुतेर्ते के शासन के विवादास्पद, जानलेवा, ड्रग-विरोधी अभियान पर आलोचनात्मक ध्यान केन्द्रित किया है। रेसा अपने मीडिया संगठन के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते के प्रशासन के ख़िलाफ़ महत्वपूर्ण कवरेज और दुष्प्रचार के ख़िलाफ़ वैश्विक लड़ाई में सरकार के निशाने पर रही हैं।

प्रतिष्टिठित पुरस्कार में विजेता को एक गोल्ड मेडल और दस मिलियन स्वीडिश क्रोनर या 1.14 मिलियन डॉलर कैश दिए जाएंगे। पुरस्कार की राशि पुरस्कार के निर्माता, स्वीडिश आविष्कारक अल्फ्रेड नोबेल द्वारा छोड़ी गई वसीयत से आती है, जिनकी मृत्यु 1895 में हुई थी।

इससे पहले नोबेल समिति ने साइकोलॉजी और मेडिसिन के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार का ऐलान किया था। इसके लिए अमेरिका के डेविड जूलियस और अर्डेम पटापाउटियन को चुना गया है। इनके अलावा फिज़िक्स के क्षेत्र में सम्मानित करने के लिए नोबेल समिति ने तीन वैज्ञानिकों को चुना है। इनमें Syukuro Manabe, Klaus Hasselmann and Giorgio Parisi शामिल हैं।

इन वैज्ञानिकों के काम ने प्रकृति की जटिल शक्तियों को समझाने और भविष्यवाणी करने में मदद मीली, जिसमें जलवायु परिवर्तन की हमारी समझ का विस्तार करना भी शामिल है।

बेंजामिन लिस्ट और डेविड डब्ल्यू.सी. मैकमिलन को बुधवार को रसायन विज्ञान के नोबेल पुरस्कार के विजेताओं के रूप में नामित किया गया था, साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार गुरुवार को ब्रिटेन के तंजानिया के लेखक अब्दुलराजाक गुरनाह को दिया गया है। आने वाले दिनों में नोबेल समिति आर्थशास्त्र के क्षेत्र में पुरस्कार का ऐलान कर सकता है।

ताज़ा वीडियो